जैतखाम तोड़े जाने के विरोध में समाज के लोगों ने कलेक्ट्रेट में की तोडफ़ोड़ व आगजनी

जैतखाम तोड़े जाने के विरोध में समाज के लोगों ने कलेक्ट्रेट में की तोडफ़ोड़ व आगजनी
RO No.12784/129

RO No.12784/129

RO No.12784/129

रायपुर- बलौदाबाजार । बलौदाबाजार जिले में गिरौदपुरी धाम की एक बस्ती में बने जैतखाम और सतनामी समाज के पूजा स्थल में तोड़-फ ोड़ के मामले में सोमवार को सतनामी समाज के लोग कलेक्ट्रेट परिसर में जमकर हंगामा किया। इस दौरान उग्र प्रदर्शनकारियों ने कलेक्टर दफ्तर और जिला पंचायत कार्यालय परिसर में खड़े कई वाहनों में तोडफ़ ोड़ कर उन्हें आग के हवाले कर दिया। इस दौरान मौके पर पहुंची पुलिस के साथ भी जमकर झूमाझटकी हुई। घटना में कई लोग घायल भी हुए हैं। इस घटना के बाद शहर में कफ्र्यू जैसे हालात निर्मित हो गए हैं।

बता दें कि गिरौदपुरी धाम से 5 किलोमीटर दूर एक बस्ती मानाकोनी है। यहां पर पुरानी गुफा है, जो बाघिन गुफा के नाम से प्रचलित है। जहां जैतखाम और सतनामी समाज के पूजा स्थल में तोड़-फोड़ की गई थी। इसके बाद समाज के लोगों ने चक्काजाम किया था। पूर्व में इस मामले में गृहमंत्री विजय शर्मा ने रविवार को ट्वीट कर कहा था कि पूरे मामले की न्यायिक जांच की जाएगी। मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के निर्देश थे कि सामाजिक सौहार्द बिगाडऩे वाली इस घटना की न्यायिक जांच कराई जाए। यह न्यायिक जांच रिटायर्ड जज या कार्यरत जज से कराई जाएगी।
वहीं गिरौधपुरी में जैतखाम तोड़े जाने के विरोध में समाज के हजारों की संख्या में लोग दशहरा मैदान में कई दिनों से प्रदर्शन कर रहे थे। सोमवार को यह भीड़ कलेक्ट्रेट और जिला पंचायत कार्यालय का घेराव करने पहुंच गई। कुछ देर में ही प्रदर्शनकारी उग्र हो गए। लोगों ने कलेक्ट्रेट में खड़े वाहनों में तोडफ़ ोड़ की तथा कलेक्टर कार्यालय और जिला पंचायत कार्यालय में आग लगा दी। इस दौरान आग लगाने के सूचना पर फायर ब्रिगेड की 7 गाडिय़ां पहुंची हैं और आग बुझाने का प्रयास कर रही थी पर गुस्साये प्रदर्शनकारियों ने दमकल की 2 गाडिय़ों में भी आग लगा दी और एक में तोडफ़ोड़ की है। इस घटना के दौरान कलेक्टर कार्यालय के अंदर 100 से 150 लोग फंसे रहे, जो अपने काम से गए थे। उन्हें पीछे से किचन के रास्ते पुलिस बल ने बाहर निकाला। इन सभी को मैदान में सुरक्षित रखा गया है। फिलहाल क्षेत्र में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है तथा कफ्र्यू जैसे हालात निर्मित हो गए हैं।