विशेष खबर:  छत्तीसगढ़ के 30 रेलवे स्टेशन अत्याधुनिक सुविधाओं से होंगे लैस

विशेष खबर:  छत्तीसगढ़ के 30 रेलवे स्टेशन अत्याधुनिक सुविधाओं से होंगे लैस

रायपुर/बिलासपुर। रेल मंत्रालय ने स्टेशनों के आधुनिकीकरण के लिए क्वअमृत भारत स्टेशन योजना नाम से एक नई नीति तैयार की है। इसके अंतर्गत छत्तीसगढ़ के 30 रेलवे स्टेशन अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस होने जा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि रेल मंत्रालय द्वारा रेलवे स्टेशन के विकास के लिए दीर्घकालिक मास्टर प्लान तैयार कर उनका कार्यान्वयन किया जायेगा।इन स्टेशनों का होगा कायाकल्पयोजना में छत्तीसगढ़ के बिलासपुर, रायगढ़, बाराद्वार, चाम्पा, नैला, अकलतरा, कोरबा, उसलापुर, पेंड्रारोड, बैकुंठपुर रोड, अंबिकापुर, दुर्ग, भिलाई पावर हाउस, भिलाई, बालोद, दल्ली राजहरा, भानुप्रतापपुर, सरोना, मरोदा, मंदिर हसौद, उरकुरा, भिलाई नगर, बिल्हा, निपानिया, भाटापारा, हथबंद, तिल्दा नेवरा, रायपुर, राजनन्दगाँव, डोंगरगढ़ स्टेशन स्टेशन शामिल किये गए हैं । योजना में रेलवे स्टेशनों पर आवश्यक सुविधाओं को बढ़ाने के लिए मास्टर प्लान तैयार किया जा रहा है। इसे चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा।रेलवे प्रशासन से प्राप्त जानकारी के अनुसार स्टेशन पर नई सुविधाओं की शुरुआत के साथ पुरानी सुविधाओं को भी अपग्रेड किया जाएगा। इन स्टेशनों तक पहुंचने में सुधार, मुफ्त वाई-फाई, वेटिंग रूम और शौचालयों जैसी जगहों को बेहतर बनाने पर ध्यान दिया जायेगा। साथ ही स्टेशनों पर यात्रियों के लिए बेहतर सूचना प्रणाली जैसी व्यवस्था भी की जाएंगी। स्टेशन के पास अवांछित संरचनाओं को हटाकर सड़कों को चौड़ा किया जायगा। मानकीकृत साइनेज, पैदल मार्ग और सुनियोजित पार्किंग क्षेत्र की व्यवस्था की जायगी।इस योजना में महिलाओं और दिव्यांगों का भी ध्यान रखा गया है। सभी श्रेणियों के स्टेशनों पर महिलाओं और दिव्यांगजनों के लिए पर्याप्त संख्या में शौचालय बनाएं जाएंगे। स्थानीय कला और सांस्कृतिक तत्वों से स्टेशन आदि को अमृत भारत स्टेशन स्कीम का मुख्य उद्देश्य दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के महत्वपूर्ण स्टेशनों का आधुनिकीकरण, स्थानीय कला और सांस्कृतिक तत्वों का समावेश करके यात्री केन्द्रित सुविधाओं में वृद्धि करना है।