देश के कारीगरों को PM MODI का तोहफा, लांच की विश्वकर्मा योजना, इन लोगों को मिलेगा लाभ

देश के कारीगरों को PM MODI का तोहफा, लांच की विश्वकर्मा योजना, इन लोगों को मिलेगा लाभ
RO No. 12652/113

RO No. 12652/113

RO No. 12652/113

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने आज विश्वकर्मा योजना का उद्घाटन कर दिया है। इस योजना का सीधा लाभ जरूरतमंद और गरीब वर्ग के लोगों को मिलेगा। योजना के शुभारंभ पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम सब नए भारत के शिल्पी प्रधानमंत्री के द्वारा भारत के हस्त शिल्पियों के लिए इस योजना का लाभ देने जा रहे हैं। पीएम नरेंद्र मोदी ने 18 विश्वकर्माओं को प्रमाण पत्र दिया। इसमें छोटी नाव बनाने वाले, कारपेंटर, लोहार, थर्मल और टूल किट बनाने वाले, ताला बनाने वाले, मूर्तिकार, सुनार, कुम्हार, मिस्त्री, टोकरी बनाने वाले, खिलौने बनाने वाले, नाई, मालाकार, दर्जी और मछली पकड़ने का जाल बनाने वाले कारीगर आदि शामिल थे।

पीएम मोदी ने कहा कि विश्वकर्मा योजना के जरिए कारीगरों को आधुनिक बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस योजना के जरिए कारीगरों को सरकार की ओर से ट्रेनिंग दी जाएगी। ट्रेनिंग के दौरान हर रोज 500 रुपए भत्ता दिया जाएगा। इसके साथ ही 15 हजार रुपए का टूल किट भी मिलेगी। पीएम मोदी ने ऐलान किया कि कारीगरों को बिना गारंटी के तीन लाख तक का लोन दिया जाएगा।

 

योजना में क्या है खास
कुल 13 हजार करोड़ रुपये का फंड बनेगा
पारंपरिक काम करने वालों को फायदा
बेसिक और एडवांस ट्रेनिंग दी जाएगी
5 फीसदी की दर से लोन मिलेगा
3 लाख रुपये तक का लोन
18 करोबार योजना में शामिल किए गए हैं
कारीगरों ओर शिल्पकारों को लाभ मिलेगा।

मिलेगा 3 लाख का लोन
सरकार की ओर से लॉन्च की गई इस योजना के तहत दिए जाने वाले लोन को विस्तार से समझें तो कुल मिलाकर इस स्कीम में 3 लाख रुपये तक का लोन देने का प्रावधान किया गया है। पहले चरण में बिजनेस करने के लिए लाभार्थी को 1 लाख रुपये का कर्ज दिया जाएगा और जब कारोबार शुरू हो जाएगा, तो फिर इस व्यवसाय को व्यवस्थित करने और इसका विस्तार करने के लिए पड़ने वाली पैसों की जरूरत को पूरा करने के लिए सरकार दूसरे चरण में 2 लाख रुपये तक का लोन प्रदान करेगी। इस योजना के तहत कारीगरों को डिजिटल लेनदेन में प्रोत्साहन और बाजार समर्थन प्रदान किया जाएगा।