मॉर्निंग विजिट में आयुक्त प्रकाश सर्वे ने पकड़ी पानी की चोरी, दो मोटर पंप जप्त, निगम आयुक्त के निर्देश पर जोन आयुक्त भी निकले मॉर्निंग विजिट पर

मॉर्निंग विजिट में आयुक्त प्रकाश सर्वे ने पकड़ी पानी की चोरी, दो मोटर पंप जप्त, निगम आयुक्त के निर्देश पर जोन आयुक्त भी निकले मॉर्निंग विजिट पर
- तहसील कार्यालय में अधिवक्ताओं के परिसर की बिजली काटी, आज से अधिवक्ता करेंगे हड़ताल दक्षिणापथ, साजा। अधिवक्ता संघ साजा की एक महत्वपूर्ण बैठक संघ के कार्यालय में हुई। जिसमें कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा की गई। अधिवक्ताओं ने इस बात पर रोष जाहिर किया कि प्रशासन उनके बैठक के स्थान की बिजली काट दी। संघ के संरक्षक पुरुषोत्तम चौबे ने कहा कि अब निर्णायक लड़ाई लडऩी होगी। अधिवक्ताओं के स्थान पर विद्युत अवरुद्ध करने का कुत्सित प्रयास उचित नहीं है। शासन के उच्च स्तरीय अधिकारियों से कई बार चर्चा हो गई और ज्ञापन की प्रतिलिपि संघ के माध्यम से प्रेषित भी हो चुकी है, लेकिन अब तक कोई निर्णायक हल नहीं हो पाया है। अधिवक्ताओं के मौलिक अधिकार के तहत भी बैठक व्यवस्था के स्थान पर विद्युत व्यवस्था शासन के निर्देशानुसार की जाती है, जिस परिसर में अधिवक्ता बैठ रहे हैं वह परिसर तहसील प्रशासन का है और उन्हीं के द्वारा टीन के शेड के माध्यम से बैठक की व्यवस्था शासकीय तौर पर शासकीय राशि से की गई है, लेकिन अब इतने अंतराल के बाद दिक्कत क्यों आ रही है। अधिवक्ताओं को जानबूझकर परेशान किया जा रहा है। अधिवक्ता संघ के पदाधिकारी मनोज कुमार वर्मा ने कहा है पूर्व में तत्कालीन एसडीएम के द्वारा तहसील प्रांगण में आवश्यक मरम्मतीकरण का हवाला देकर अधिवक्ताओं को कार्यालय के बाहर परिसर के अंदर टीन शेड बनाकर बैठक व्यवस्था की गई थी। तमाम सुविधाएं उपलब्ध कराने का निर्देश दिए गए थे। राशि कमी की वजह से बाद में करने का आश्वासन दिया गया था। जिसके तहत अधिवक्ता गण अपने स्वयं की व्यवस्था पर विद्युत उपकरण लगाए थे जोकि निरंतर चल रही थी। लेकिन वर्तमान में अधिकारियों के निदेश के कारण विद्युत काट दी गई । जिससे अधिवक्ता व पक्षकार सभी परेशान हैं। प्रशासन तत्काल विद्युत व्यवस्था बहाल करे बैठक में तत्काल विद्युत व्यवस्था की बहाली, पेयजल व्यवस्था, प्रसाधन के अलावा अन्य बिंदुओं पर भी चर्चा की गई। यह निर्णय लिया गया कि प्रशासन अगर गंभीरता पूर्वक विचार नहीं करता है तो निरंतर धरना प्रदर्शन भी होगा। तहसील कार्यालय विधानसभा का मुख्यालय है यहां पर प्रतिदिन सैकड़ों की तादाद में लोगों को आना जाना रहता है। अपने कामों के लिए कार्यालय आते हैं लेकिन टाइपिंग आवश्यक प्रमाण पत्र नामांतरण बंटवारा फौती जवाब बहस जैसे कार्य लिखने के लिए नहीं हो पा रहा है, जिससे मामले मुकदमा का निपटारा समय पर नहीं हो पा रहा है इसलिए प्रशासन को तत्काल समस्याओं का निराकरण किया जाना चाहिए । बैठक में अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष मूलचंद शर्मा , अवधेश शर्मा, उपेंद्र दीवान, विनोद शर्मा, मनोज वर्मा, गोकुल राजपूत, मनोज शर्मा, मनोज राजपूत, दिनेश साहू, अजय देवगन, अजय गोस्वामी, श्रीमती कविता गोसाई, योगेश चंदेल, अमरदास रात्रे उपस्थित रहे। लोगों ने कहा मांग उचित- यहां आने वालो लोगों ने भी अधिवक्ताओं की मांगों का समर्थन किया। लोगों ने कहा अधिकारियों को बिजली पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं को बहान करना चाहिए। राजस्व अधिकारियों और साजा के अधिवक्ताओं के बीच विद्युत व्यवस्था में अवरोध को लेकर विवाद की स्थिति निरंतर निर्मित हो रही है। जिसके चलते कार्यालय अथवा न्यायालय कार्यवाही बाधित हो रही है । लोग अपने कार्यों के लिए दूरदराज से आने के बाद भी मायूस होकर लौट रहे हैं। राजस्व मामलों का निपटारा भी नहीं हो रहा है। जाति निवासी आय प्रमाण पत्र व अन्य आवश्यक प्रमाण पत्रों के लिए लोगों को भटकना पड़ रहा है। मत्री को ज्ञापन सौंपकर आवगत कराया क्षेत्रीय विधायक एवं कैबिनेट मंत्री छत्तीसगढ़ शासन रविंद्र चौबे को भी अधिवक्ता संघ साजा द्वारा उक्त समस्याओं के संबंध में ज्ञापन सौंपकर मांग की गई है कि समस्याओं को दूर करने के लिए अधिकारियों के निर्देशित करे । संबंधित आपदा प्रबंधन सचिव को भी प्रतिलिपि प्रेषित की गई है।