भारत के कई इलाकों में 2 जनवरी से चलेगी भीषण शीतलहर, पारा 4 डिग्री तक गिरने की संभावना

भारत के कई इलाकों में 2 जनवरी से चलेगी भीषण शीतलहर, पारा 4 डिग्री तक गिरने की संभावना
RO No.12822/158

RO No.12822/158

RO No.12822/158

-राज्य से 27 लोग बने शतरंज के राष्ट्रीय निर्णायक दक्षिणापथ, दुर्ग। जिला शतरंज संघ दुर्ग के सचिव मिथिलेश बंजारे ,सह सचिव दिव्यांशु उपाध्याय ,रॉकी देवांगन को शतरंज के वरिष्ठ राष्ट्रीय निर्णायक बनने पर जिला शतरंज संघ दुर्ग ने बधाई देते हुए शुभकामनाएं व्यक्त की है। इनमें से दिव्यांशु उपाध्याय शतरंज के राष्ट्रीय खिलाड़ी भी है जिन्होंने यह उपलब्धि हासिल की है। जिला शतरंज संघ के अध्यक्ष ईश्वर सिंह राजपूत ने बताया कि ऑल इंडिया चेस फेडरेशन की योजना चैस फॉर एवरीवन जिसका प्रमुख उद्देश्य देश के सभी राज्यों के प्रत्येक जिलों से ऑर्बिटर तैयार कर, जिला स्तर पर निर्णायकों को लेकर हो रही समस्याओं को दूर करना है, ताकि प्रतियोगिता सुचारू रूप से कम खर्चों में संपन्न हो सके। इसी तारतम्य में 30 जनवरी 2022 को शतरंज के वरिष्ठ राष्ट्रीय निर्णायक व राष्ट्रीय निर्णायक के लिए ऑल इंडिया चैस फेडरेशन द्वारा ऑनलाइन परीक्षा आयोजित की गई थी। जिसमें दुर्ग जिले से मिथलेश बंजारे, दिव्यांशु उपाध्याय और रॉकी देवांगन शामिल हुए। पहले ही प्रयास में तीनों ने शानदार सफलता हासिल कर जिले व राज्य का मान बढ़ाया है। इनकी इस उपलब्धि पर जिला शतरंज संघ के अध्यक्ष ईश्वर सिंह राजपूत, उपाध्यक्ष दिनेश जैन, कोषाध्यक्ष तुलसी सोनी, संजय खंडेलवाल, मोरध्वज चंद्राकर, एस के भगत, हरीश सोनी, आर के ताम्रKर्मा, दिनेश नलोडे, राजेन्द्र अग्रवाल, गुरविंदर सिंह अरोरा, यशवंत चंद्राकर ने शुभकामनाएं देते हुए सफलता प्राप्त करने के लिए तीनों ही सीनियर नेशनल ऑर्बिटर को बधाई दी।