विभागीय अधिकारी योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित करें -अध्यक्ष पिछड़ा वर्ग आयोग

विभागीय अधिकारी योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित करें -अध्यक्ष पिछड़ा वर्ग आयोग
RO No.12822/158

RO No.12822/158

RO No.12822/158

दक्षिणापथ, दुर्ग । छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ दुर्ग ने आज कलेक्टर पहुंच कर स्वास्थ्य कर्मचारियों के खिलाफ झूठी व मनगढंत शिकायत के विरोध मे ज्ञापन सौंपा कर न्याय दिलाने की कलेक्टर से मांग करते झूठी शिकायत करने विरुद्ध कठोर कानूनी कार्यवाही करने की मांग रखी है। छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के प्रदेश महामंत्री सैय्यद असलम ,जिला अध्यक्ष राकेश तिवारी, संभागीय अध्यक्ष अजय नायक ने संयुक्त ज्ञापन मे बताया कि जिला अस्पताल दुर्ग मे कार्यरत स्वास्थ्य कर्मचारियों के कार्य शैली पर कई झूठी शिकायत आऐ दिन होते रहते है जिससे जांच अधिकारी नियुक्त होने के बाद निराकरण होता है। कई शिकायतें झूठी एंव मनगढ़ंत होती है इसके चलते स्वास्थ्य कर्मचारियों का मनोबल गिर रहा है। विगत 17 माह से कोविड काल मे आम जनमानस को सेवा देरहे स्वास्थ्य कर्मचारियों को प्रोत्साहित करना चाहिए। विगत दिनो एक शिकायत पर जांच होने पर जांच अधिकारी व सि्विल सर्जंन ने उस शिकायत पर कोई प्रमाणित आधार नहीं होने पर स्टाफ नर्सेज को निर्दोष मना था। शिकायतकर्ता ने छ माह बाद पुनः शिकायत की है। स्टाफ नर्सेज का इस संबंध मे कहना कि प्रसूति विभाग मे प्रवेश नही होना चाहिए जिसको मना करने पर प्रसूता के परिजनों के द्वारा झूठी शिकायत दर्ज कराया गया था जबकि प्रसूता एंव होने वाले शिशु की जान बचाने के चिकित्सकों द्वारा अन्य अस्पताल रिफर किया गया था। ऐसे मे बारबार सिस्टरो के खिलाफ शिकायत करना निंदनीय है। इस संबंध में मुख्य चिकित्सा एंव स्वास्थ्य अधिकारी दुर्ग डा गंभीर सिंह ठाकुर से भी मुलाकात कर झुठी एंव मनगढ़ंत शिकायत पर रोक लगाने मांग रखी गई है। इस अवसर जिला अस्पताल के पी डी मार्कण्डेय, खिलावन चंदाकर ,नरेश ,स्टाफ नर्सेज कविता,स्वणलता तुरकाने,योगेशवरी,डी रशमी,शशी नेताम,स्मिता जोसफ,बिंदेशवरी,जेनीफर नंदा,रानी साधू आदि मौजूद थे।