रूस में प्रधानमंत्री मोदी ने चैंपियन टीम इंडिया को सराहा

रूस में प्रधानमंत्री मोदी ने चैंपियन टीम इंडिया को सराहा
RO No.12822/158

RO No.12822/158

RO No.12822/158

-बोले- आज का युवा आखिरी बॉल और आखिरी पल तक हार नहीं मानता है

मॉस्को । भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस वक्त 2 दिन के रूस दौरे पर हैं. जहां, राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भी गर्मजोशी के साथ पीएम मोदी का स्वागत किया. मंगलवार को भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए पीएम ने कई अहम मुद्दों पर बात की. इस दौरान उन्होंने हाल ही में टी-20 वर्ल्ड कप 2024 में ट्रॉफी जीतने वाली चैंपियन टीम इंडिया की सराहना की. साथ ही उन एथलीट्स के प्रयासों को भी सराहा, जिन्होंने बीते वक्त में भारत के लिए मेडल्स जीते हैं. 
29 जून को बारबाडोस में टीम इंडिया ने टी-20 वर्ल्ड कप 2024 में खिताबी जीत दर्ज कर इतिहास रचा. 17 साल बाद टीम इंडिया ने इस टूर्नामेंट में जीत दर्ज की. इस जीत को भारत में त्यौहार की तरह सेलिब्रेट किया गया. 4 जुलाई को जब टीम इंडिया भारत लौटी, तो चैंपियन टीम से पीएम ने मुलाकात की.
अब रूस दौरे पर भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टीम इंडिया की इस जीत को सराहते नजर आए. उन्होंने भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए कहा, टी20 वर्ल्ड कप में भारत ने ट्रॉफी जीती. दुनियाभर के भारतीयों ने अपनी टीम को जमकर सेलिब्रेट किया. आज का युवा आखिरी बॉल और आखिरी पल तक हार नहीं मानता है. विजय उन्हीं के कदम चूमती है, जो हार मानने को तैयार नहीं होते.
26 जुलाई से शुरू होने वाले पेरिस ओलंपिक में 66 पुरुष खिलाड़ी तो वहीं 47 महिला भारतीय एथलीट हिस्सा लेने वाले हैं. ऐसे में भारत की मेडल्स की उम्मीद काफी अधिक है. पीएम मोदी ने कार्यक्रम के दौरान पेरिस ओलंपिक पर बात करते हुए कहा, ये भावना सिर्फ क्रिकेट तक सीमित नहीं है बल्कि दूसरे खेलों में भी दिखती है. बीते सालों में इंटरनेशनल टूर्नामेंट में हमारे एथलीट ने ऐतिहासिक प्रदर्शन किए हैं. पेरिस ओलंपिक में भी भारत की ओर से एक शानदार टीम भेजी जा रही है. भारत की युवा शक्ति का यही कॉन्फिडेंस भारत की असली पूंजी है. यही युवा शक्ति भारत को 21वीं सदी की नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए सबसे बड़ी ताकत है.