राष्ट्रपति चुनाव: कोई 'रिकॉर्डधारी' तो कोई 'मददगार', ये 5 उम्मीदवार भी चर्चा में,  18 जुलाई को राष्ट्रपति चुनाव, 21 जुलाई को वोटों की गिनती , पिछले राष्ट्रपति चुनाव में 106 उम्मीदवार थे

राष्ट्रपति चुनाव: कोई 'रिकॉर्डधारी' तो कोई 'मददगार', ये 5 उम्मीदवार भी चर्चा में,  18 जुलाई को राष्ट्रपति चुनाव, 21 जुलाई को वोटों की गिनती , पिछले राष्ट्रपति चुनाव में 106 उम्मीदवार थे

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

Presidential polls 2022: राष्ट्रपति चुनाव की तारीख नजदीक आ रही है. फिलहाल दो उम्मीदवारों की चर्चा सबसे ज्यादा है. इसमें एनडीए की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू और विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा का नाम शामिल है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि राष्ट्रपति चुनाव सिर्फ इन दो लोगों के बीच नहीं हो रहा है. बल्कि राष्ट्रपति चुनाव में अबतक कुल 56 उम्मीदवार पर्चा भर चुके हैं.

न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, द्रौपदी मुर्मू, यशवंत सिन्हा के अलावा लिमका बुक ऑफ रिकॉर्ड में नाम दर्ज करवा चुके पद्मराजन भी चुनाव में हैं. उनका चुनाव हारने में रिकॉर्ड है. वह अबतक 231 बार चुनाव लड़ चुके हैं लेकिन कभी नहीं जीते.

इसके अलावा राम कुमार शुक्ला भी मैदान में हैं. उनका मानना है कि राष्ट्रपति को कम से कम सुविधाओं के साथ रहना चाहिए. राम कुमार कहते हैं कि अगर वह राष्ट्रपति बने तो बहुत ही सादा जीवन जीकर दिखाएंगे, जिसमें उनका सिर्फ एक घर होगा, मौजूदा राष्ट्रपति की तरह तीन नहीं.

एक अन्य उम्मीदवार का नाम अशोक कुमार ढींगरा है. वह सेना और सैन्यकर्मियों की बात करते हैं और खुद को उचित उम्मीदवार बताते हैं. राष्ट्रपति चुनाव में दिल्ली यूनिवर्सिटी के पूर्व प्रोफेसर शंकर अग्रवाल भी मैदान में हैं.

इसके अलावा सूरज प्रकाश भी राष्ट्रपति चुनाव लड़ रहे हैं, वह एक्सीडेंट में घायल कई लोगों की अबतक मदद कर चुके हैं.

राष्ट्रपति चुनाव कब होंगे?

बता दें कि 18 जुलाई को राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होना है. वहीं 21 जुलाई को वोटों की गिनती होगी. नामांकन दाखिल करने के लिए 29 जून तक का वक्त और है. ऐसे में और उम्मीदवार भी मैदान में आ सकते हैं. पिछले राष्ट्रपति चुनाव (2017) में 106 उम्मीदवार थे.