मनरेगा से गांव में हरियाली और खुशहाली की बही बयार

मनरेगा से गांव में हरियाली और खुशहाली की बही बयार
RO No. 12200/36

RO No. 12172/87

RO No. 12200/36

RO No. 12172/87

RO No. 12200/36

RO No. 12172/87

दक्षिणापथ। कई बार घर या ऑफिस के ज्यादा कामकाज, गलत तरीके से उठने-बैठने या असामान्य गतिविधियों के कारण कई तरह की शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। उन्हीं में से एक है कंधों का अकडऩा, जिसे अक्सर कई लोग सामान्य समझकर नजरअंदाज कर देते हैं और यही लापरवाही भविष्य में उन्हें भारी पड़ सकती है। आइए आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे बताते हैं, जिन्हें अपनाकर आप कंधों की अकडऩ से छुटकारा पा सकते हैं।
कोल्ड कंप्रेस से करें सिकाई
कोल्ड कंप्रेस की मदद से कंधों में होने वाली अकडऩ से काफी राहत मिल सकती है। राहत के लिए कोल्ड पैड से प्रभावित हिस्से की सिकाई करें। अगर आपके पास कोल्ड पैड नहीं है तो एक तौलिये का थोड़ा सा हिस्सा ठंडे पानी में डुबो लें और फिर इसे निचोड़कर चार-पांच मिनट तक इसे प्रभावित जगह पर लगाकर रखें। ऐसा दिन में दो-तीन बार करने से आपको काफी आराम मिलेगा।
सेब के सिरके का करें इस्तेमाल
सेब का सिरका एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से समृद्ध माना जाता है, जिसकी वजह से यह कंधों की अकडऩ से राहत दिलाने में सहायक है। इसके लिए आप एक छोटी बाल्टी में हल्के गर्म पानी के साथ सेब के सिरके की कुछ बूंदें अच्छे से मिलाएं और फिर इस मिश्रण में एक तौलिये को डूबोकर निचोड़ दें। इसके बाद उस तौलिये को अकडऩ से प्रभावित कंधे पर अच्छे से लपेटकर 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें। यकीनन इससे आपको काफी आराम मिलेगा।
जैतून के तेल से करें मालिश
जैतून के तेल में फेनोलिक कंपाउंड मौजूद होते हैं, जो कंधों की अकडऩ को दूर करने में अहम भूमिका अदा कर सकते हैं। समस्या से राहत पाने के लिए सबसे पहले जैतून के तेल को हल्का गर्म कर लें और फिर इसे अकडऩ से प्रभावित कंधे पर लगाकर कुछ मिनट धीरे-धीरे मालिश करें। इससे आपके कंधे की मांसपेशियों को आराम के साथ-साथ लचीलापन मिलता है, जिससे कंधे की अकडऩ दूर हो जाती है।
योग और स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज भी है प्रभावी
अगर कंधों में अकडऩ की समस्या होने लगे तो घरेलू उपाय के तौर पर योग और स्ट्रेचिंग करना अच्छा विकल्प हो सकता है। जब भी आपको कंधों में अकडऩ महसूस हो तो कम से कम 15 मिनट तक वीरासन, गोमुखासन और वृक्षासन आदि योगासनों का अभ्यास करें। वहीं, योगाभ्यास से पहले और बाद में स्ट्रेचिंग करना न भूलें क्योंकि इसके अभ्यास से मांसपेशियों में लचीलापन आता है, जिससे कंधों को आराम मिलता है।