मणिपुर में 10 दिन तक हवाई यात्रा पर लग सकती है रोक, पेंडिंग पड़े कोरोना टेस्ट ने बढ़ाई मुश्किल

मणिपुर सरकार ने सोमवार को केंद्र से कहा कि वह इम्फाल के लिए हवाई उड़ानों को 10 दिनों के लिए रोक दे, ताकि पहले से पहुंचे यात्रियों की कोरोना वायरस जांच रिपोर्ट पूरी की जा सके। आज की बात करे तो इम्फाल के लिए पांच उड़ाने हैं। ऐसे में यात्रियों की बढ़ती संख्या और जांच के लिमिट दायरे को देखते हुए राज्य सरकार ने 10 दिन के लिए राज्य में हवाई यात्राओं पर रोक लगाने का अनुरोध किया है।

हवाई उड़ानों पर रोक लगाने के पीछे क्वारंटाइन सेंटर में पहले से पहुंचे लोगों का परीक्षण और भीड़ को कम करना है ताकि नए पहुंचे लोगों को वहां रखा जा सके और उनका समय पर टेस्ट किया जा सके। मणिपुर सरकार में मुख्य सचिव जे सुरेश बाबू ने नागर विमानन मंत्रालय की संयुक्त सचिव उषा पाडेय को लिखे पत्र में कहा है कि जैसा कि चर्चा हुआ है, मैं आपसे 19 जून से 28 जून तक राज्य की सभी उड़ानों को रोकना के अनुरोध करता हूं। इसके लिए सभी एयरलाइंस, डीजीसीए और एएआई को आवश्यक निर्देश जारी की जाए।

पत्र में यह भी कहा गया है कि लोगों की भारी आमद के कारण परीक्षण में काफी देरी हुई है और 15000 नमूनों की जांच अभी भी पेंडिंग है। बता दें कि मणिपुर में कोरोना वायरस संक्रमण के 458 केस आए हैं जिसमें से 367 एक्टिव केस हैं जिनका इलाज चल रहा है। लॉकडाउन खुलने के बाद राज्य में कोरोना वायरस के मामले दिन पर दिन बढ़ रहे हैं। मई के अंत में हवाई यात्रा शुरू होने से पहले ही लोगों का पहला बैच राज्य पहुंचा था।

error: Content is protected !!