सितंबर की जगह साल 2022 में होगी विश्व तीरंदाजी फील्ड चैम्पियनशिप

सितंबर की जगह साल 2022 में होगी विश्व तीरंदाजी फील्ड चैम्पियनशिप

Ro No. 12027-89

Ro No. 12027-89

Ro No. 12027-89

-सीसीटीवी फुटेज में चोरों के हुलिए कैद होने के बाद भी आखिर चोर पुलिस के हत्थे क्यों नहीं चढ रहे , नागरिकों के जेहन में सवालों पर सवाल

  • सीसीटीवी फुटेज के डर से कहीं चोर चोरी किए गए सामानों को छोड़ कर तो नहीं भाग रहे?

दक्षिणापथ, पत्थलगांव। आज सुबह कुमेकेला लंझियापारा में ग्रामीणों ने एक खेत में लावारिस हालत में एक पल्सर बाइक बरामद किया। यह पल्सर बाईक एक दिन पूर्व रेस्ट हाउस के समीप पीडब्ल्यूडी कालोनी से चोरी हुवे रत्नेश यादव की है विदित हो कि रेस्ट हाउस के समीप पीडब्ल्यूडी कालोनी से सीजी 13 ऐसी 1463 का हेंडल लौक तोड़कर चोरो ने रत्नेश कुमार यादव की पल्सर बाईक चोरी कर ली थी जिसके बाद रत्नेश ने पत्थलगांव थाना में इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई थी नजदीकी घर से निकाले गये सीसी फुटेज में पीडब्ल्यूडी कालोनी से पल्सर बाईक को चोरी कर तीन लोग भागते दिख रहे है चोरी की यह पूरी घटना सीसी टीवी में कैद हो गई थी। घटना के बाद से ही पुलिस समेत बाईक मालिक चोर की तलाश में जुटी थी लेकिन आज सुबह चोर ने बाइक को लावारिस हालत में छोड़ दिया है। विदित हो की थाना क्षेत्र से बीते कई दिनों से लगातार बाईक चोरी की घटनाए हो रही है ।
शहर में रात के अंधेरे में हो य दिन के उजाले में बाइक चोर आंख से काजल चुराने की तर्ज पर बाइक चुराकर ले जाते हैं। पुलिस में मामला दर्ज होता है, लेकिन लंबे समय तक न बाइक का पता चलता है न बाइक चोरी करने वालों का। ऐसे में चोरों के भी हौसले बुलंद हो गए हैं और बाइक चोरी का सिलसिला लगातार जारी है।पीडब्ल्यूडी कालोनी जैसे इलाके से बाईक चोरी की घटना हो जाने से इस तरह के कालोनी में सुरक्षा के कड़े इंतजाम हेतु सीसी कैमरे लगाने की मांग उठ रही है , ताकि भविष्य में ऐसी घटना दोबारा न हो सके।शहरवासियों का कहना है कि अगर शहर को सीसीटीवी सिक्योरिटी सजाए तो पुलिस को अपराध ट्रेस करने में सुविधा होगी। आपराधिक तत्वों को भी भय रहेगा।

चोरी हुए पिकअप किलकिला नदी में लावारिस हालत में बरामद हुआ

पत्थलगांव शहर के लिए सोमवार की सुबह बहुत सुकून देने वाली साबित हो रही है दरअसल सुबह पत्थलगांव कुमेकेला लनझियापारा में चोरी हुआ बाइक लावारिस मिलने के बाद पत्थलगांव शहर से 2 दिन पूर्व चोरी हुए पिकअप भी नदी में लावारिस हालत में बरामद हो गईं, दो दिन पूर्व अंकित ट्रेडर्स अम्बिकापुर रोड़ पत्थलगांव के संचालक अंकित अग्रवाल की पिकअप वाहन CG14D0437 को घर के सामने से रात्रि 2 से 5 बजे चोर चोरी कर ले गए थे। जिसे चोर किलकिला से आगे सँकरे सड़क हर्रामाल जामकानी मार्ग पर स्थित किलकिला जाने वाली नदी में चोर पिकअप को नदी के पानी से पार कर रहे थे परंतु चोर नदी पार करने में असफल रहे जिसके कारण चोर नदी में ही पिकअप छोड़कर भाग गए जिसकी सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी पुलिस मौके पर पहुंचकर पिकअप को जब्ती बनाते हुए आगे की कार्रवाई तेज कर दी है।

पत्थलगांव शहर में ऐसे दर्जनों चोरियां हो चुकी हैं जिसमें हर बार प्रार्थी द्वारा सीसीटीवी फुटेज उपलब्ध कराए जाते हैं किंतु पुलिस इस सीसीटीवी फुटेज में आए हुए व्यक्तियों की पहचान नहीं कर पाती है एवं कुछ दिनों बाद मामला ठंडे बस्ते में डाल दिया जाता है। यदि पुलिस द्वारा पूर्व में की गई चोरियों के सीसीटीवी फुटेज पर गंभीरता दिखाई जाए तो अपराधी के साथ अपराधों पर भी अंकुश लग सकता है किंतु प्रार्थी को चोरी हुई चीजें मिलने के बाद पुलिस मामले की इतिश्री कर देती है ।सीसीटीवी फुटेज में आए हुए हुलिए की आखिर गहराई से पुलिस जांच क्यों नहीं करती हैं?? नागरिकों के मन में लगातार सवाल कौध रहा है ??विगत दिनों की शहर के बीचो बीच nh-43 पर एक मुरा व्यवसाई को एक अज्ञात वाहन ने ठोकर मार कर घायल कर दिया था जिसकी कुछ घंटे बाद ही मौत हो गई थी जिसके बाद घर के मुखिया के नहीं रहने से बाकी परिवारिक लोगों पर पेट चलाने के लिए समस्याएं खड़ी होती है। ऐसे दर्जनों मामले हैं जो पुलिस द्वारा आज तक अनसुलझे ही नजर आते हैं। हर बार पुलिस केवल सीसीटीवी फुटेज तक ही सीमित रख हुलिए में मिले अपराधियों तक पहुंचने में दूर रह जाती हैं एवं मामले को फाइलों में ही छोड़कर मामले पर पर्दा डाल देती है।