कोरोना की लड़ाई में महिलाएं दे रहीं सार्थक योगदान : गुरू रूद्रकुमार

रायपुर : लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार ने कोरोना संक्रमण से बचाव के कार्यों में महिला समूहों के योगदान की सराहना की है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विभिन्न जिलों में महिलाएं संक्रमण से बचाव के लिए सेनेटाईजर और मास्क तैयार कर सार्थक भूमिका अदा कर रही हैं। मंत्री गुरू रूद्रकुमार सेे आज यहां उनके निवास सतनाम सदन में धमतरी, रायपुर और महासमुंद जिले से पहुंची महिला स्व-सहायता समूह की सदस्यों से सौजन्य मुलाकात की और उनका उत्साहवर्धन किया।

मुलाकात के दौरान महिला समूहों ने कोरोना संक्रमण से बचाव और जरूरतमंदों की मदद के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष हेतु 1 लाख 45 हजार 303 रूपए की राशि का चेक और सरस्वती एवं शुभकामना महिला स्व-सहायता समूह द्वारा तैयार किए गए 1500 नग मास्क सौंपा। मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने महिलाओं के हौसले और जज्बे की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिए गए धन राशि के लिए धन्यवाद दिया।

मंत्री गुरू रूद्रकुमार से मुलाकात के दौरान रायपुर जिले की धान्य महिला स्व सहायता समूह की सुश्री माधुरी यदु ने बताया कि सभी महिलाएं गणवेश सिलाई का कार्य करती हैं। लॉकडाउन में हम महिलाओं को हाथकरघा संघ ने मास्क तैयार करने का कार्य मिलने से हमें रोजगार के साथ-साथ हमारी आर्थिक स्थिति में भी सुधार आया है। सुश्री यदु ने स्व-सहायता समूह को कोरोना संक्रमण से बचाव से कार्यों में जिम्मेदारी देने के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को धन्यवाद देते हुए आभार व्यक्त किया है।

मुख्यमंत्री सहायता कोष में 25 स्व-सहायता समूहों ने 1 लाख 45 हजार 303 रूपए की राशि दी है। इनमें मुख्य रूप से धान्य महिला स्व-सहायता समूह 31 हजार, रामावतार महिला स्व-सहायता समूह 3100 हजार, सरस्वती एवं शुभकामना सहायता समूह 14 हजार, पहचान महिला स्व-सहायता समूह 11 हजार, कादंबरी महिला स्व-सहायता समूह 10 हजार रूपए शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि ग्रामोद्योग विभाग के अंतर्गत हाथकरघा संघ से जुड़ी 650 स्व-सहायता समूह की लगभग 7000 महिलाओं द्वारा 3 लाख 80 हजार मास्क तैयार कर विभिन्न विभागों को आपूर्ति की है।

error: Content is protected !!