मारुति ने महिंद्रा फानेंस के साथ किया समझौता, ग्राहकों को आसानी से मिलेगा वाहन लोन

मारुति ने महिंद्रा फानेंस के साथ किया समझौता, ग्राहकों को आसानी से मिलेगा वाहन लोन

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

दक्षिणापथ, रायपुर। जहाँ चाह वहाँ राह की सूक्ति को चरितार्थ करते हुए 26 वर्षीय क्षिप्रा पाल ने प्रथम प्रयास में ही उत्तरप्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षा में शानदार प्रदर्शन करते हुए डिप्टी कलेक्टर के पद पर चयनित हुई हैं। उत्तरप्रदेश में लोक सेवा आयोग की परीक्षा का परिणाम शुक्रवार 11 सितंबर को ही घोषित किया गया है। बचपन से ही मेधावी और विलक्षण प्रतिभा की धनी क्षिप्रा की विद्यालयीन शिक्षा छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के केन्द्रीय विद्यालय से हुई। स्नातक स्तर पर बीए की परीक्षा सेन्ट स्टीफेन्स कॉलेज दिल्ली से उत्तीर्ण की। प्रशासनिक सेवा में रूझान के चलते उन्होंने प्रतिष्ठित जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय दिल्ली के एमए पाठ्यक्रम में दाखिला लिया और साथ ही प्रशासनिक सेवाओं की तैयारी में जुट गई। जिसका सुखद परिणाम प्रथम प्रयास में ही डिप्टी कलेक्टर के रूप में उनका चयन काफी प्रतिस्पर्धा के बीच हुआ है। फोटोग्राफी और पेंटिंग में अपनी प्रतिभा का उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वाली क्षिप्रा पाल भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी छत्तीसगढ़ राज्य में एसआईबी व नक्सल ऑपरेशन की कमान संभाल रहे उप महानिरीक्षक ओ.पी.पाल की इकलौती पुत्री हैं। इनकी माताजी मीरा पाल गृहणी हैं व भाई क्रिकेट के अच्छे खिलाड़ी के रूप में अपनी पहचान रखते हैं। क्षिप्रा पाल के चयन पर पुलिस महकमें के साथ ही परिजनों व शुभचिंतकों में हर्ष की लहर है।