चीन के विदेश मंत्रालय का बयान, कहा- पूर्वी लद्दाख में गतिरोध को सुलझाएंगे बातचीत से

नई दिल्ली/चीन । चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा है कि सीमा पर उत्पन्न स्थिति को बातचीत और विचार‑विमर्श से सुलझाने की क्षमता दोनों देशों में है। उन्होंने कहा कि सीमा क्षेत्र में हालात स्थिर हैं तथा उन्हें नियंत्रण में बनाए रखा जा सकता है।

नई दिल्ली में चीन के राजदूत सन विडोंग ने ट्वीट कर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता के बयान को साझा किया। उल्लेखनीय है कि पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर जारी गतिरोध को दूर करने के लिए दोनों देशों के उच्च सैन्य अधिकारियों के बीच बातचीत हुई थी। दोनों देशों ने बातचीत और संपर्क आगे भी जारी रखने का फैसला किया था। रविवार को भारतीय विदेश मंत्रालय की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया था कि दोनों देश आगामी कुछ समय तक बैठकों के माध्यम से सीमा क्षेत्र में चल रही तनातनी का हल खोज लेंगे।

प्रवक्ता का कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रपति शी जिंगपिंग के बीच बने इस मतैक्य को अमलीजामा पहनाने के लिए दोनों देश इस बात पर सहमत हैं आपसी मतभेदों को विवाद में नहीं बदलने देना है। सीमा क्षेत्र में मिलकर काम करते हुए शांति व सौहार्द बनाए रखना है और इसके माध्यम से दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों को और अधिक प्रगाढ़ करना है।

उन्होंने बताया कि 6 जून को भारत और चीन के बीच में हुई सैन्य स्तर की वार्ता में सीमा क्षेत्र के बारे में चर्चा की गई। चीन और भारत इस संबंध में राजनयिक और सैन्य माध्यमों से संवाद बनाए हुए हैं।

error: Content is protected !!