असम के 4 जिलों के 10 हजार से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित

असम के 4 जिलों के 10 हजार से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

दक्षिणापथ,दुर्ग। राजस्व पटवारी संघ तहसील शाखा दुर्ग की आवश्यक बैठक संपन्न हुई जिसमें दुर्ग तहसील में पटवारियों की समस्याओं पर विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। चर्चा के दौरान अभिलेख शुद्धता से संबंधित समस्याओं, जिला प्रोग्रामर को एनआईसी रायपुर से समूह जिला स्तर पर नियुक्त करने, सीमांकन का कार्य राजस्व निरीक्षक से करवाया जाए, पटवारी से स्थल निरीक्षण प्रतिवेदन न मांगा जाए, ऑन लाईन आदेश की क्रियान्वयन पश्चात् पीठासीन अधिकारी की आईडी से किया जावे। डायवर्सन विभाग से पटवारी को प्राप्त ज्ञापन में नई-नई जानकारी मंगाई जाती है जो कि पटवारी कार्यालय में भी उपलब्ध नहीं है ऐसे ज्ञापन में जूड़े मद को परिवर्तन कर पूराने मद अनुसार ज्ञापन भेजने, वर्तमान में खरीदी गिरदावरी का समय आ चुका है किन्तु पटवारियों के पास अभी तक वर्ष 2020-21 का पटवारी अभिलेख उपलब्ध शासन द्वारा नहीं कराया गया है ऐसे में त्रुटीपूर्ण गिरदावरी की संभावना बनी हुई है। ऐसी स्थित में राजस्व पटवारी संघ द्वारा गिरदावरी कार्यक्रम का विरोध एवं रोष प्रकट किया गया। वहीं सांतवा वेतन मांग के लिए शासन से निर्देश हेतु पत्राचार्र किया गया हैं। लेकिन उसकी जानकारी अब तक अप्राप्त हैं। समयमान, वेतनमान, एरियस और पटवारियों के ग्रेडपे के संबंध में त्रुटियों का भी संधारण नहीं किया जा रहा हैं। जिसेे समयावधि में पूर्ण किया जावे। राजस्व पटवारी संघ तहसील दुर्ग शाखा की बैठक में प्रांतीय सचिव राजेश वन्सारी, तहसील अध्यक्ष चिनमय अग्रवाल, सचिव खुबलाल देशमुख, उपाध्यक्ष हरप्रसाद साहू सहित सूर्यकांत निषाद, विमल गंजपाल, राजेश देशमुख, चंद्रशेखर साहू, रविन्द्र स्वर्णकार, शिल्पा यादव, प्रियंका ठाकुर, सुमन सिन्हा सहित तहसील दुर्ग के अन्य पटवारी उपस्थित थे।