भोपाल में मौसम को लेकर टूटा 12 साल का रिकॉर्ड, जानें कैसे रहेंगे आने वाले महीने

भोपाल. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते पूरे देश में कई दिनों से लॉकडाउन (Lockdown) घोषित है. इसके चलते मालवाहक वाहनों को छोड़कर निजी गाड़ियां न के बराबर सड़कों पर चल रही हैं. वहीं, अधिकांश कल-कारखाने भी बंद हैं. ऐसे में वायु प्रदूषण फैलाने वाले कार्बन का उत्सर्जन बहुत कम हो गया है. इस वजह से हवा साफ हो गया है. नदियों की सेहत में भी सुधार देखा जा रहा है. इसी बीच, मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से एक बड़ी खबर सामने आई है. दरअसल, भोपाल में पिछले 12 साल के मुकाबले इस बार कम गर्मी पड़ रही है.

अप्रैल महीने के आखिरी दिन को छोड़कर 29 दिनों में से ज्यादातर दिनों में सामान्य से कम गर्मी पड़ी है. वहीं, मार्च महीने में भी अधिकांश दिनों का तापमान कम ही था. आंकड़े के अनुसार, अप्रैल महीने में 1 से लेकर 29 तारीख तक तापमान सामान्य से कम रहा था. सिर्फ 30 अप्रैल को पारा 41 डिग्री पर गया था. अब मई महीने में भी कमोबेस वही हाल है. मई के 7 में से दो दिन तापमान सामान्य से 1 डिग्री कम रहा. बाकी दिन औसत के करीब या एक डिग्री अधिक रहा. मौसम विभाग की मानें तो अगले आने वाले कुछ दिनों में तापमान सामान्य रहने के आसार हैं.

हर 10 दिन के अंतराल में पश्चिमी विक्षोभ हो रहा सक्रिय
मौसम विशेषज्ञ अजय शुक्ला का कहना है कि तापमान को सामान्य से कम रहने की कई वजह हैं. वे मानते हैं कि हर 10 दिन के अंतराल में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है. इसके चलते भी गर्मी कम पड़ रही है. वहीं, अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में नमी बनी हुई है, जो बादल के रूप में दिखई दे रही है. साथ ही राजस्थान की गर्म हवाओं का प्रकोप भी इस बार कम है. वहीं, चौथा और आखिरी कारण लॉकडाउन को भी माना जा रहा है. अधिकांश वाहन और कल-कारखाने बंद होने से भी राहत है.

error: Content is protected !!