बीसीसीआई ने भारत-वेस्टइंडीज़ सीरीज़ के कार्यक्रम में किया बदलाव

बीसीसीआई ने भारत-वेस्टइंडीज़ सीरीज़ के कार्यक्रम में किया बदलाव

Ro No. 12027-89

Ro No. 12027-89

Ro No. 12027-89

'-अब अपने सांसद ही मांग रहे              इस्तीफालंदन । ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। मामला इतना गंभीर है कि अब उन्हीं की पार्टी के सांसद उनका इस्तीफा मांगने लगे हैं। बीते साल कोरोना लॉकडाउन के दौरान अपने डाउनिंग हाउस आवास के गार्डन में पार्टी की खबरों को लेकर बढ़ती नाराजगी के बीच हालांकि बुधवार को जॉनसन ने हाउस ऑफ कॉमन्स में माफी भी मांगी है।साल 2020 में जब दुनिया में कोरोना महामारी का आक्रमण हुआ तो सबसे ज्यादा तबाही यानी कोरोना से मौतें अमेरिका (स्) और यूरोप के देशों में हुईं। यानि जब कोरोना के पहले लॉकडाउन में पूरी दुनिया के लोग घरों में कैद थे, तब यहां के प्रधानमंत्री अपने सरकारी बंगले पर पार्टी कर रहे थे। पहली लहर में ब्रिटेन में हुई मौतों के बाद पूरे देश में मातम का माहौल था।प्रधानमंत्री के आधिकारिक आवास 10 डाउनिंग स्ट्रीट के गार्डन में आयोजित पार्टी के लिए ईमेल से भेजे गए निमंत्रण-पत्र के मीडिया में आने के बाद से जॉनसन पर विपक्षी लेबर पार्टी के साथ ही उनकी अपनी कंजर्वेटिव पार्टी के सदस्यों की ओर से भी अत्यंत दबाव है। उन्होंने इस मामले में खेद जताते हुए पहली बार माना कि वह पार्टी में शामिल हुए थे। जॉनसन ने कहा कि उन्हें लगता था कि यह आयोजन उनके कामकाज से संबंधित आयोजनों के दायरे में है।प्रधानमंत्री के साप्ताहिक प्रश्न सत्र से पहले संसद के निचले सदन हाउस ऑफ कॉमन्स में अपने बयान में जॉनसन ने कहा कि मैं माफी मांगना चाहता हूं। मुझे पता है कि इस देश में लाखों लोगों ने पिछले 18 महीने में असाधारण कुर्बानियां दी हैं। उन्होंने कहा कि मुझे पता है कि वे मुझे और मेरी अगुवाई वाली सरकार को लेकर क्या महसूस करते हैं जब वे सोचते हैं कि नियम बनाने वाले लोग ही डाउनिंग स्ट्रीट में नियमों का सही से पालन नहीं कर रहे हैं। मैं मौजूदा जांच के परिणामों को लेकर पूर्वानुमान नहीं व्यक्त कर सकता, लेकिन मुझे यह अच्छी तरह समझ में आया है कि हमने कुछ चीजों को सही से नहीं लिया और मुझे जिम्मेदारी लेनी चाहिए। उन्होंने अपने कर्मियों को शुक्रिया अदा करने के लिए' आयोजित गार्डन पार्टी में अपनी मौजूदगी का ब्योरा दिया।जॉनसन ने संसद से सरकार के लोगों द्वारा लॉकडाउन के नियमों को तोड़े जाने के मामलों में चल रही जांच के नतीजों का इंतजार करने को कहा। उन्होंने यह भी कहा कि मुझे लगता है कि यह कामकाज से जुड़ा आयोजन था। दूर का सोचते हुए मुझे वहां मौजूद सभी को वापस भेज देना चाहिए। मुझे उन्हें शुक्रिया अदा करने का कोई और तरीका सोचना चाहिए था।