आरोग्य सेतु एप पर राहुल गांधी को भरोसा नहीं, सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री बोले, रोज एक नया झूठ

नई दिल्ली। आरोग्य सेतु एप को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा सवाल उठाए जाने पर निशाना साधते हुए भाजपा नेता ने कहा कि कांग्रेस नेता हर दिन ‘‘एक नया झूठ’’ बोलते हैं। भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि जिन लोगों ने जीवन भर केवल निगरानी रखने का काम किया, वे नहीं समझ सकते कि प्रौद्योगिकी का भलाई के कार्यों में भी उपयोग किया जा सकता है। आरोग्य सेतु ऐप को निजी आपरेटर को आउटसोर्स किए जाने को खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि इसमें डाटा सुरक्षा की ठोस व्यवस्था है। केंद्रीय मंत्री ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘ श्रीमान गांधी, वक्त आ गया है कि आप अपना ट्वीट ऐसे लोगों को आउटसोर्स करना बंद कर दें, जिनको भारत की समझ ही नहीं है। उन्होंने कहा कि इस एप की दुनिया भी में सराहना की जा रही है जिसे सरकार ने कोरोना वायरस से लड़ाई में एक महत्वपूर्ण हथियार बताया है। राहुल पर निशाना साधते हुए प्रसाद ने कहा, ‘‘ हर दिन एक नया झूठ। आरोग्य सेतु एप शक्तिशाली सहयोगी है जो लोगों की सुरक्षा करता है। इसमें डाटा सुरक्षा की ठोस व्यवस्था है। जो लोग जीवन भर निगरानी करने में जुटे रहे, वे नहीं समझ सकते कि प्रौद्योगिकी का अच्छे कार्यों में उपयोग किया जा सकता है।

क्या है मामला

गौरतलब है कि राहुल गांधी ने शनिवार को ट्वीट किया कि आरोग्य सेतु ऐप एक अत्याधुनिक निगरानी प्रणाली है, जिसे निजी ऑपरेटर को आउटसोर्स किया गया है और कोई संस्थागत निगरानी नहीं है, इससे डेटा सुरक्षा और निजता को लेकर गंभीर चिंताएं खड़ी हो रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी हमें सुरक्षित रहने में मदद कर सकती है, लेकिन भय का लाभ उठाकर लोगों को उनकी सहमति के बिना ट्रैक नहीं किया जाना चाहिए।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी पर तंज करते हुए कहा कि वह बड़े होने को तैयार नहीं हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें आरोग्य सेतु एप के बारे में जानकारी नहीं है और वे गैर जिम्मेदाराना एवं गलत बयान देकर लोगों को गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं।’’ पात्रा ने कहा कि सरकार ने कई मौकों पर वैज्ञानिक तरीके से इस बारे में आशंकाओं को दूर किया है और वह स्पष्ट करना चाहते हैं कि यह कोविड-19 से लडाई में निजी सुरक्षा कर्मीकी तरह है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!