विधायक वोरा स्लम वार्डों में कर रहे लगातार मॉनिटरिंग

लॉक डाउन में किसी को ना रहना पड़े भूखा: वोरा

एक तरफ जहां पूरा देश कोरोना वायरस जैसी खतरनाक संक्रामक बीमारी के खतरे के बीच लॉक डाउन का सामना कर रहा है वहीं दूसरी ओर गरीबों, दिहाड़ी मजदूरों के सामने दो वक्त के खाने का संकट उत्पन्न हो गया है। इस वैश्विक महामारी के बीच दुर्ग विधायक अरुण वोरा लगातार बस्तियों एवं स्लम वार्डों का दौरा कर आम जनों से संपर्क बनाए हुए हैं व लोगों को राशन भोजन की उपलब्धता सुनिश्चित करने सतत मॉनिटरिंग कर रहे हैं। गौरतलब है कि वोरा की पहल पर ही नगर निगम की एमआईसी द्वारा पार्षद निधि का उपयोग राशन खरीदी के लिए करने का प्रस्ताव पारित किया गया था जिसे सरकार द्वारा पूरे प्रदेश में लागू कर दिया गया। इसके अतिरिक्त उन्होंने विधायक निधि से भी साढ़े सात लाख रु की राशि खाद्यान्न के लिए दिए हैं। श्री वोरा ने कहा कि देश ऐसी गंभीर चुनौती का सामना पहली बार कर रहा है इससे हमें डरने या घबराने की जगह परिस्थितियों का पूरी जागरूकता व सजगता से सामना करने की आवश्यकता है। इस कठिन परिस्थिति में कोई भी व्यक्ति भूखा ना रहे यही प्राथमिकता होनी चाहिए। साफ सफाई, दो वक्त का भोजन व शुद्ध पेयजल लोगों की मूलभूत आवश्यकता है जिसके लिए लगातार प्रयास जारी है। प्रदेश सरकार द्वारा पहले ही तीन माह का राशन बीपीएल परिवारों के लिए निशुल्क कर दिया गया है उसके बाद बचे हुए जरूरतमंदों को पके हुए भोजन के साथ ही कच्चा राशन भी उपलब्ध कराया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!