वेदांता में रोज बन रहे 5000 पीपीई किट

नई दिल्ली। देश की प्रमुख धातु और खनन कंपनी वेदांता गुरुग्राम में रोजाना 5000 व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई किट) का निर्माण कर रही है। देशभर में कोरोना योद्धाओं को जिसमें डॉक्टर, नर्स, चिकित्सा अधिकारी तक शामिल हैं, इस महामारी से निपटने में सहायक पीपीई किट की कमी से जूझ रहे हैं। इसको देखते हुए वेदांता ने केंद्रीय कपड़ा मंत्रालय के सहयोग से 23 पीपीई मशीनों का आयात किया और अधिकृत कपड़ा निर्माताओं के साथ मिलकर हर रोज 5000 से अधिक पीपीई का निर्माण गुरुग्राम में कर रही है। कंपनी ने 3.5 लाख मास्क स्थानीय समुदायों को और स्वास्थ्य मंत्रालय को दो लाख एन 95 मास्क भी उपलब्ध करवाए हैं। कंपनी कोरोना की जंग में अभी तक 151 करोड़ रुपये की मदद कर चुकी है।

वेदांता के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल का कहना है कि भारत ने कोरोना महामारी से लड़ने में व्यापक एकजुटता दिखाई है। कई देशों में महत्वपूर्ण दवाओं की आपूर्ति की है। उन्होंने विश्वास जताया कि हम जल्द ही इस स्थिति से उभरेंगे। हम एक नए भारत के निर्माण की ओर अग्रसर हैं। वेदांता ग्रुप द्वारा दिए सहयोग पर कपड़ा मंत्रालय के प्रधान सचिव, रवि कपूर ने आभार प्रकट करते हुए कहा कि एईपीसी को पीपीई के निर्माण के लिए कंपनी ने आवश्यक मशीनरी मुहैया कराकर बेहतरीन काम किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!