देश में कोरोना ने पकड़ी रफ्तार, दिल्ली-मुंबई का हालात चिंताजनक

नई दिल्ली । देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है, वही दिल्ली और मुंबई में हालात चिंताजनक हैं। कोरोना के मामले दोनों जगह जनजीवन को परेशान कर रहे हैं। लॉकडाउन, हॉटस्पॉट और कंटेनमेंट के बाद भी कोरोना लगातार पैर पसार रहा है। मुंबई में मरीजों की संख्या 5500 से अधिक है तो दिल्ली में आंकड़ा 3000 के पार पहुंच गया है। महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की संख्या 8500 हजार के पार जा पहुंची। यहां 24 घंटे में पांच सौ ज्यादा केस बढ़ गए। महाराष्ट्र में कोरोना के आंकड़ा 5700 से ज्यादा हो गया। मुंबई में 24 घंटे में 369 नए केस जुड़ गए, जबकि यहां अब तक मरने वाली की संख्या 219 तक जा पहुंची। मुंबई के लिए अच्छी बात ये है कि कंटेनमेंट जोन लगातार कम हो रहा है। कभी यहां 1036 कंटेनमेंट जोन होते थे, जो अब घट तक 805 हो गए। 231 इलाकों में दो हफ्तों से कोरोना के कोई नए मामले नहीं आए हैं।

राजधानी दिल्ली की स्थिति अजीब है। 2 दिन पहले यहां सबसे ज्यादा लोग ठीक हुए थे, लेकिन 24 घंटों में रिकवर होने की संख्या नहीं बढ़ी है। राजधानी में कोरोना संक्रमित की संख्या 3 हजार के पार हो गई है। 24 घंटे में 190 नए मामले सामने आए। अच्छी बात ये है कि 48 घंटों में दिल्ली में कोरोना से किसी की भी मौत नहीं हुई है। कोरोना के बढ़ते मामले के बाद दिल्ली में दो और इलाकों को सील कर दिया है। दिल्ली में अब कुल 99 इलाके सील हैं।देश के दो शहर, एक तरफ राजधानी दिल्ली और दूसरी तरफ आर्थिक राजधानी कहलाने वाली मुंबई, लेकिन कोरोना केस के आंकड़े बताते हैं कि दोनों शहर अलग-अलग रास्ते पर चल रहे हैं। दिल्ली में जहां कोरोना केस सीमित रफ्तार से बढ़ रहे हैं, वहीं मुंबई में बेतहाशा बढ़ोतरी हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!