टाटा स्टील की ब्रिटिश यूनिट ने सरकार से राहत पैकेज मांगा!

नई दिल्ली। कोरोना के कारण आई समस्याओं से निपटने के लिए टाटा स्टील की ब्रिटिश यूनिट ने सरकार से राहत पैकेज की मांग की है। जानकारी के मुता‎बिक कंपनी की ओर से 50 करोड़ पौंड राहत पैकेज मांगने का अनुमान है। टाटा स्टील के पास ब्रिटेन की सबसे बड़ी इस्पात कंपनी पोर्ट टालबॉट का मालिकाना हक है। एक ‎रिपोर्ट के अनुसार कंपनी वेल्स सरकार के साथ-साथ ब्रिटेन के लोक वित्त विभाग यूके ट्रेजरी से भी संपर्क में है। ब्रिटेन की सरकार ने बड़े कारोबारियों को राहत देने के लिए कोरोना वायरस लार्ज बिजनेस इंटरप्शन लोन स्कीम (सीएलबीआईएलएस) पेश की है।

कंपनी की कोशिश इस योजना के तहत 50 करोड़ पौंड का राहत पैकेज पाने की है। वेल्स सरकार के प्रवक्ता का कहना है ‎कि वह टाटा स्टील के साथ लगातार बातचीत कर रहे हैं। वह यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि वेल्स और ब्रिटेन में एक बड़ी स्टील कंपनी के तौर पर काम करते रहने के लिए उनकी क्या जरूरतें हैं। टाटा स्टील ब्रिटेन में करीब 8,385 लोगों को रोजगार देती है। इसमें 4,000 लोग पोर्ट टॉलबॉट में हैं जबकि करीब 2,800 लोगों को वेल्स के अन्य हिस्सों में रोजगार मिला हुआ है। कंपनी ने एक बयान में कहा ‎कि हम देखेंगे कि हमें क्या मदद मिल सकती है। हम वेल्स और ब्रितानी सरकार के साथ लगातार काम कर रहे हैं। खबर के मुताबिक यह राहत राशि एक तरह का वाणिज्यिक ऋण हो सकता है जिसे इस्पात की मांग दोबारा सुधरने के बाद चुकाने की मोहलत दी जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!