स्वच्छता सर्वेक्षण 22 : शंकर नगर नाला समेत अन्य नालो में इस वर्ष तीन बार सफाई करने का प्लान-आयुक्त

स्वच्छता सर्वेक्षण 22 : शंकर नगर नाला समेत अन्य नालो में इस वर्ष तीन बार सफाई करने का प्लान-आयुक्त

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

- जारी किया गया शो-काज नोटिस दक्षिणापथ, बेमेतरा । जिला शिक्षा अधिकारी अरविन्द मिश्रा द्वारा गुरुवार को शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला हसदा का निरीक्षण किया गया। डी.ई.ओ. श्री मिश्रा बच्चों के साथ प्रार्थना में भी शामिल हुए। निरीक्षण के दौरान शाला के कु. टमेश्वरी जंघेल, श्रीमती संतोषी राकेश, रामकुमार चतुर्वेदी एवं श्री रामेश्वर प्रसादर विश्वकर्मा अनुपस्थित पाए गए वहीं शासकीय प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक शाला सांकरा के निरीक्षण के दौरान शासकीय प्राथमिक शाला के तोरण सिंह ठाकुर सहायक शिक्षक अनुपस्थित पाए गए। जिला शिक्षा अधिकारी अरविन्द मिश्रा के द्वारा सभी अनुपस्थित शिक्षकों को बिना सूचना के अनुपस्थिति के संबंध में कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा हाई स्कूल बोर्ड परीक्षा 2022 का शासकीय उ.मा.वि. आनंदगांव, खुड़मुड़ा, शासकीय हाई स्कूल, भिंभौरी, जनता उ.मा.वि. भिंभौरी, शासकीय उ.मा.वि. हसदा, सरदा, कन्या बेरला, बालक बेरला, कुसमी, शासकीय हाई स्कूल देवरी, सांकरा, विकासखण्ड बेरला तथा शासकीय उ.मा.वि. जेवरी विकासखण्ड बेमेतरा का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान केन्द्राध्यक्षों से हाई स्कूल परीक्षा हेतु कुल दर्ज विद्यार्थी, उपस्थित विद्यार्थी तथा अनुपस्थित विद्यार्थी की जानकारी सहित परीक्षा कक्षों एवं पयवेक्षकों की संख्या संबंधी जानकारी ली गई। जिला शिक्षा अधिकारी अरविन्द मिश्रा के द्वारा माध्यमिक शिक्षा मण्डल के निर्देशों के अनुरूप परीक्षाओं के संचालन के निर्देश दिए गए। निरीक्षण के दौरान सभी विद्यालयों में सुव्यवस्थित एवं शांतिपूर्ण परीक्षा का संचालन होना पाया गया। जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा शासकीय आत्मानंद उत्कृष्ठ अंग्रेजी माध्ययम विद्यालय बेरला का भी निरीक्षण किया गया। डी.ई.ओ. श्री मिश्रा द्वारा प्राथमिक कक्षाओं के बच्चों से पहाड़ा के संबंध में पूछा गया तथा शिक्षकों को निर्देशित किया गया कि कक्षा के अनुसार निर्धारित टेबल याद हो यह सुनिश्चित किया जाए उन्होंने कक्षा 9वीं के विद्यार्थियों से रसायन शास्त्र के कुछ सवाल भी पूछे तथा विषय शिक्षक को निर्देशित किया कि बच्चों को विषयों के मूलभूत जानकारी भी हो यह सुनिश्चित किया जावे।