चीन में मिला कोरोना का सबसे खतरनाक रूप, तेजी से बदल रहा संक्रमण का तरीका

चीन में मिला कोरोना का सबसे खतरनाक रूप, तेजी से बदल रहा संक्रमण का तरीका

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

दक्षिणापथ, दुर्ग । छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के दुर्ग जिले के पदाधिकारियों ने जिलाध्यक्ष शत्रुघ्न साहू के नेतृत्व तथा प्रदेश महामंत्री ओम प्रकाश पाण्डेय के विशेष उपस्थिति में दुर्ग जिला कलेक्टर कथा जिला शिक्षा अधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री, विभागीय मंत्री तथा अधिकारियों के नाम क्रमोन्नति, पदोन्नति, वेतन विसंगति, पुरानी पेंशन, 28 % मंहगाई भत्ता, शिक्षक पंचायत संवर्ग के आश्रितों के अनुकम्पा नियुक्ति की मांग के संबंध में ज्ञापन सौंपा गया ।
टीचर्स एसोसिएशन के प्रदेश महामंत्री ओम प्रकाश पाण्डेय ने बताया छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन शिक्षकों की समस्याओं को लेकर लगातार अभियान चलाकर विभिन्न माध्यमों से शिक्षकों की मांगो को लेकर आवाज बुलंद कर रहा है और आने वाले 8 अगस्त को इन मांगों के संबंध में ट्विटर अभियान चलाकर सोशल मीडिया के माध्यम से माननीय मुख्यमंत्री जी तक शिक्षकों की मांगों को रखा जाएगा जिला अध्यक्ष शत्रुघ्न साहू ने जिले के शिक्षकों से अधिक से अधिक संख्या में ट्विटर से जुड़कर इस अभियान में सहयोग प्रदान करने की भी अपील की है
छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष शत्रुघ्न साहू ने बताया कि अभियान के अगले चरण में अगस्त से अगस्त तक जिले के सभी विकास खंडों में टीचर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी तहसीलदार और बीईओ के माध्यम से मुख्यमंत्री जी के नाम ज्ञापन सौंपेंगे ।

सौंपे गए ज्ञापन में प्रमुख मांगे इस प्रकार :
क्रमोन्नति –
प्रथम नियुक्ति तिथि से सेवा अवधि मानकर क्रमोन्नति का आदेश किया जावे,
शिक्षा कर्मियों के निम्न वर्ग की सेवा को जोड़कर उच्च वर्ग में लाभ दिया गया है, अतः पूर्व सेवा अवधि को जोड़कर क्रमोन्नति हेतु लाभ प्रदान कर क्रमोन्नति आदेश जारी किया जावे।
पदोन्नत्ति – सभी विभाग में पदोन्नति जारी है, ज्ञातव्य है प्राथमिक शाला, पूर्व माध्यमिक शाला में प्रधान पाठक के हजारों पद रिक्त है, शिक्षक, व्याख्याता व प्राचार्य के पद पर भी पदोन्नति का प्रावधान है, अतः एल बी संवर्ग को कुल शिक्षकीय सेवा अनुभव (पूर्व सेवा) के आधार पर पदोन्नति दिया जावे, इससे शिक्षण व्यवस्था में गुणात्मक सुधार होगा।
वेतन विसंगति – व्याख्याता व शिक्षक की तुलना में सहायक शिक्षक का वेतन कम है, प्राथमिक शिक्षा को विशेष शिक्षकीय सेवा मानकर व्याख्याता व शिक्षक के वेतनमान के अंतर के अनुपात में शिक्षक व सहायक शिक्षक के वेतनमान में सुधार किया जावे तथा शिक्षक पं/ननि संवर्ग को 01/05/2013 से दिए गए पुनरीक्षित (समतुल्य) वेतनमान में भूतलक्षी प्रभाव से 1.86 के गुणांक पर निर्धारण करने का आदेश जारी किया जावे व 2 वर्ष में एक वेटेज का लाभ दिया गया है उसे 1 वर्ष में 1 वेटेज देने का आदेश देते हुए रिवाइज एलपीसी जारी किया जावे।
पुरानी पेंशन बहाली– जनघोषणा पत्र में पुरानी पेंशन बहाली हेतु कार्यवाही उल्लेखित है, अतः NPS के स्थान पर OPS (पुरानी पेंशन योजना) लागू करने की कार्यवाही किया जावे।
लंबित मंहगाई भत्ता – 01 जनवरी 2019 से अभी तक 12 प्रतिशत मंहगाई भत्ता राज्य के कर्मचारियों व शिक्षकों को प्राप्त हो रहा है,,जुलाई 2019 से लंबित 5% मंहगाई भत्ता एवं जनवरी 2020 से लंबित 4% मंहगाई भत्ता, जुलाई 2020 से लंबित 3 % भत्ता, जनवरी 2021 से लंबित 4% भत्ता को मिलाकर जून 2021 की स्थिति में 28 % मंहगाई भत्ता का आदेश जारी किया जावे।
अनुकम्पा नियुक्ति – तकनीकी संविलियन मानते हुए शिक्षक पंचायत संवर्ग के आश्रितों को अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान की जावे।
ग्रेच्युटी – छत्तीसगढ़ शासन वित्त विभाग मंत्रालय नया रायपुर दिनांक 27 अक्टूबर 2017 को जारी आदेश के अनुसार
मृत्यु सह सेवानिवृत्ति उपादान (ग्रेच्युटी) [Death cum Retirement Gratuity】का आदेश जारी किया जावे
अर्जित अवकास का नगदीकरण –
प्रथम नियुक्ति तिथि से सेवा पुस्तिका में दर्ज अर्जित अवकाश की गणना करते हुए भुगतान हेतु आदेश जारी किया जावे। ज्ञापन सौंपने वाले प्रतिनिधि मंडल में मुख्य रूप से जिला उपाध्यक्ष कमल वैष्णव, किशन देशमुख, नारायण जोशी, जयंत यादव, वीरेंद्र वर्मा, संजय चंद्राकर, प्यारेलाल नेताम, घनश्याम देवांगन, अमिता हरमुख, चंपा नायक, राजेश चंद्राकर, महेश चंद्राकर, मंसाराम लहरे, धनराज डहरे आदि शामिल रहे ।