जब तक रिश्ते नहीं सुधरते, तब तक भारत-पाक के बीच क्रिकेट संभव नहीं : श्रीसंत

कोच्चि । पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज एस श्रीसंत ने शोएब अख्तर के उस प्रस्ताव की आलोचना की है, जिसमें इस पाकिस्तानी खिलाड़ी ने कोरोना वायरस के लिए फंड जुटाने के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज आयोजित कराने की बात कही थी।

श्रीसंत ने कहा जब तक दोनों देशों के बीच रिश्ते नहीं सुधरते तब तक कुछ नहीं हो सकता। श्रीसंत ने इंस्टाग्राम पर लाइव चैट में कहा, हमारे पाकिस्तान के साथ संबंध अच्छे नहीं हैं। इसलिए भारत पहले, स्वास्थ्य पहले। निजी तौर पर मैं पाकिस्तान के साथ खेलने के पक्ष में तब तक नहीं हूं जब तक दोनों देशों के रिश्ते सुधर नहीं जाते। श्रीसंत 2007 टी-20 वर्ल्ड कप और 2011 वनडे वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम का हिस्सा थे।

श्रीसंत बैन के कारण 2011 के बाद से भारत के लिए नहीं खेले हैं। बता दें कि इससे पहले शोएब अख्तर ने कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर धन जुटाने के लिए भारत और पाकिस्तान के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज खेलने की बात कही थी। उल्लेखनीय है कि इससे पहले हरभजन सिंह ने शोएब अख्तर के प्रस्ताव पर कहा था कि इस समय मेरे दिमाग में क्रिकेट सबसे आखिरी की चीज है। मैं इसके बारे में सोच भी नहीं रहा हूं। उन्होंने कहा कि फंड जुटाने के और भी बहुत से तरीके हैं। जरूरी नहीं कि इसके लिए मैच खेला जाए।

कपिल देव ने भी शोएब अख्तर को लताड़ लगाते हुए कहा, हमें धन की आवश्यकता नहीं है, और क्रिकेट मैच के लिए जान को जोखिम में डालना कहां की समझदारी है? कपिल ने कहा इस प्रस्ताव को अमल में लाना संभव नहीं है। वह अपनी राय रखने के हकदार हैं, लेकिन हमें पैसे जुटाने की आवश्यकता नहीं है। हमारे पास पर्याप्त पैसे हैं। सुनील गावस्कर ने भी ऐसी किसी संभावना को नकारते हुए कहा था कि लाहौर में बर्फबारी हो सकती है, लेकिन मौजूदा हालात में भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज नहीं हो सकती।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!