एमेजान और फ्लिपकार्ट के ‎लिए मुसीबत बन सकती है जियो-फेसबुक डील

नई दिल्ली । फेसबुक ने जियो प्लैटफॉर्म्स में 43,574 करोड़ रुपए के निवेश कर 9.99 फीसदी स्टेक खरीदने का ऐलान किया है, जो ऐमज़ॉन और फ्लिपकार्ट जैसे बड़े ई-कॉमर्स प्लैटफॉर्म्स के लिए खतरे की मुसीबत बन सकती है, क्योंकि इससे रिटेल शॉपिंग का तरीका बदल सकता है। इस डील के तहत फेसबुक और रिलायंस के बीच ई-कॉमर्स को लेकर भी बड़ा फैसला हुआ है। रिलायंस के ‎जियोमार्ट और फेसबुक के वाटसऐप के जरिए करोड़ों किराना दुकानदारों और ग्राहकों को जोड़ा जाएगा, जो ऐमज़ॉन और फ्लिपकार्ट से तगड़ा मुकाबला कर सकता है। वॉट्सऐप फेसबुक इंक की स्वामित्व वाली कंपनी है और आज देश में घर-घर में इसका इस्तेमाल हो रहा है।

गांव-किसान सभी वॉट्सऐप का सहजता से इस्तेमाल कर रहे हैं। ऐसे में रिटेल के लिए वॉट्सऐप का इस्तेमाल रिलायंस के लिए बिजनस बढ़ाने का एक बढ़िया जरिया साबित होगा और ग्राहकों के लिए आसानी का। रिलायंस देश के लाखों छोटे किराना दुकानदारों को अपने साथ जोड़ने की कोशिश कर रही है, जिसके लिए उसने नया ई-कॉमर्स प्लैटफॉर्म जियो मार्ट बनाया है। फेसबुक मेसेंजर और वॉट्सऐप के जरिए कंपनी आसानी से दुकानदारों को सपॉर्ट कर पाएगी। मुकेश ने कहा कि इस डील के बाद करीब 3 करोड़ छोटे किराना स्टोर्स अपने ग्राहकों के साथ डिजिटल ट्रांजैक्शन कर सकेंगे। रिलायंस रिटेल लाखों छोटे दुकानदारों और किराना स्टोर्स को अपने साथ जोड़ेगी और ग्राहकों से सीधे डिजिटली कनेक्ट करेगी। ऐसा करने से ऐमज़न और फ्लिपकार्ट जैसे बड़े ई-कॉमर्स प्लैटफॉर्म्स को जाहिर तौर पर बड़ा झटका लग सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!