जनस्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ ना करें विभाग-वोरा

दुर्ग। शहर में बिगड़ती पेयजल की सप्लाई में बार-बार अवरोध व गंदे पानी की शिकायत में हो रही बढ़ोत्तरी को देखते हुए आज विधायक अरुण वोरा व महापौर धीरज बाकलीवालए जलप्रभारी संजय कोहले एवं आयुक्त इंद्रजीत बर्मन के साथ अधिकारियों ने 3 घंटे की सोशल डिस्टेस का पालन करते हुए मैराथन बैठक कर व फिल्टर प्लाट पहुंचकर पानी की जांच कर निष्कर्ष निकाला की लॉकडाउन व ग्रीष्मऋतु में जल विभाग के पास 20 टैंकर, 900 हेण्डपंप व 270 मोटर पंप के साथ ही इंटकवेल व फिल्टर प्लाट के मोटर पंप व ट्रासफार्मर की लगातार रिपेरिंग व मॉनिटरिग के लिए अधिकारियों की जवाबदेही तय होगी। जिससे जनता को पानी के लिए भटकना ना पड़े। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के द्वारा घरों में पहुच रहे पीने की पानी की सत्यता जानने के लिए प्रतिदिन सेम्पल लेकर जांच कराई जाएगी। बैठक में विधायक वोरा ने कोरोना वायरस के दौर में हैजा, डायरिया, पीलिया जैसे संक्रामक रोग वार्डो में ना फैले इसका विशेष ध्यान रखते हुए बैकटेरिया शून्य के साथ ही अतिरिक्त ट्रासफार्मर व पंप की व्यवस्था पूर्व से ही होनी चाहिए। महापौर बाकलीवाल ने अधिकारियों को बार. बार जल अवरोध का निराकरण जल्द करने व गंदे पानी सप्लाई वाले क्षेत्र में अमृत मिशन के कार्य को प्राथमिकता एवं सभी ओव्हरहेड टैंक की सफाई का जल्द निपटान किया जाए। जल विभाग में फंड की कोई कमी नहीं है किन्तु बेवजह लोग पेयजल के लिए परेशान ना हो। डेंगू से बचाव हेतु बड़ी नालियों व तालाबो की सफाई करें। जल विभाग की बैठक में सभापति राजेश यादव, अब्दुल गनी, राजेश शर्मा, टीके देव, एआर रंगहडाले, राजेन्द्र धबाले, नारायण ठाकुर उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!