Happy Birthday Rekha: घर खर्च के लिए रेखा को B ग्रेड फिल्मों में करना पड़ा एक्सपोज, 15 की उम्र में इस हीरो ने किया जबरन KISS

दक्षिणापथ. दमदार अभिनय के अलावा रेखा अपनी दिलकश आवाज और खूबसूरती के लिए जानी जाती हैं। रविवार को रेखा का जन्मदिन है। रेखा ने अपने करियर की शुरुआत एक बाल कलाकार (तेलुगु फिल्म) के रूप में की थी। रेखा के माता-पिता तेलुगु सिनेमा के जाने माने एक्टर्स थे। रेखा को बचपन से ही फिल्मी माहौल मिला। हालांकि रेखा के पिता ने उनकी मां से कभी शादी नहीं की।

रेखा

नन बनना चाहती थीं रेखा
बॉलीवुड की एवरग्रीन ब्यूटी रेखा की खूबसूरती हमेशा चर्चा का विषय रही है। उम्र के इस पड़ाव में भी रेखा आज भी खूबसूरती और अपने निराले अंदाज से हर किसी को टक्कर देती हैं। वहीं न सिर्फ पुरानी पीढ़ी बल्कि आज की युवा पीढ़ी भी रेखा को काफी पसंद करती है। रेखा को तीन बार फिल्मफेयर और एक बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से नवाजा जा चुका है। रेखा पद्मश्री से सम्मानित भी हैं। रेखा ने अमिताभ बच्चन से लेकर राजेश खन्ना जैसे बड़े एक्टर्स के साथ काम किया है लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब उन्हें घर खर्च के लिए बी ग्रेड फिल्मों में एक्सपोज भी करना पड़ा। रेखा जब कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ाई कर रही थीं तब वे नन बनना चाहती थीं।

रेखा

रेखा ने अपने करियर में रेखा ने करीब 175 हिंदी और दक्षिण भारतीय फिल्मों में काम किया है जिनमें ‘खूबसूरत’, ‘खून भरी मांग’, ‘खून और पसीना’, ‘मुकद्दर का सिकंदर’ और ‘उमराव जान’ शामिल हैं। रेखा ने अपने हिंदी करियर की शुरुआत ‘सावन भादो’ फिल्म से की थी। यह उनकी पहली हिट फिल्म भी थी। लेकिन प्राण जाए पर वचन ना जाए जैसी बी ग्रेड फिल्म का भी रेखा हिस्सा रहीं।

इस फिल्म में सुनील दत्त लीड रोल में थे। फिल्म में एक्सपोज करती रेखा के पोस्टर्स को देख उस समय काफी हंगामा मचा था। फिल्म में रेखा तवायफ के रोल में नजर आई थीं। रेखा के तालाब में नहाने और बिना कपड़ों के बाहर आने के सीन ने खूब सुर्खियां बटोरी थी।

फिल्म ‘अंजाना सफर’ की शूटिंग के दौरान रेखा एक रोमांटिक गाने की शूटिंग के लिए पहुंची थीं और जैसे ही डायरेक्टर ने एक्शन कहा वैसे ही फिल्म के लीड एक्टर विश्वजीत ने उन्हें होठों पर किस करना शुरू किया और यह किस लगभग 5 मिनट तक चलता रहा। उस वक्त रेखा महज 15 साल की थीं। विश्वजीत ने अपने इस किसिंग सीन पर सफाई देते हुए कहा था कि इसमें उनकी कोई गलती नहीं है। यासेर उस्मान की बुक ‘रेखा : द अनटोल्ड स्टोरी’ में इस बात का जिक्र किया गया है।

error: Content is protected !!