मिथिला पालकर ने लिटिल थिंग्स में अपने किरदार काव्या को लेकर खुलकर की बात

दक्षिणापथ। वेब-सीरीज लिटिल थिंग्स का चौथा और अंतिम सीजन समाप्त होने जा रहा है, अभिनेत्री मिथिला पालकर ने नेटफ्लिक्स शो में अपने चरित्र काव्या के बारे में बात की और शो से जुड़ी यादें साझा की। पिछले सीजन में काव्या के फलने-फूलने के तरीके को देखते हुए, मिथिला ने कहा कि काव्या जीवन में क्या करना चाहती थी, इस बारे में उसने थोड़ा अनिश्चित होना शुरू कर दिया था।
पहला सीजन एक ऐसी जगह पर समाप्त हुआ जहाँ वह अपनी नौकरी लेकर भी कनफ्यूज थी की वह जो कर रही है, वह उसे करना चाहिए या नहीं। उसने ध्रुव के साथ यह बातचीत भी की, जहाँ वह कहती हैं कि मैं नौकरी छोड़ रही हूँ, और बस देखना चाहती हूं कि जीवन मुझे कहाँ है ले जाता है।
उन्होंने कहा कि दूसरे सीजन में, मुझे याद है कि वह थोड़ी बड़ी हो गई थी, उनका रिश्ता थोड़ा बढ़ गया था और उसे अपने सपनों का काम मिल गया था, उसे बहुत अच्छा वेतन मिला था। तीसरे सीजन में, मुझे लगता है कि वह काफी वयस्क हो गई है, क्योंकि उसे न केवल अपने बारे में, बल्कि अपने आस-पास होने वाली हर चीज की भी समझ है।
मिथिला को लगता है कि उनका चरित्र एक व्यक्ति के रूप में अभी-अभी बड़ा हुआ है।
उन्होंने कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से काव्या से तीसरे सीजन से सबसे अधिक जुड़ी हूं।

error: Content is protected !!