IPL 2021: दिल्ली को तीन विकेट से हराकर कोलकाता तीसरी बार फाइनल में, 15 अक्तूबर को चेन्नई से मुकाबला

दक्षिणापथ. आईपीएल 2021 के क्वालीफायर-2 के मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) ने दिल्ली कैपिटल्स को तीन विकेट से हरा दिया। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली टीम 20 ओवर में पांच विकेट पर 135 रन ही बना सकी। शिखर धवन ने सबसे ज्यादा 36 रन बनाए। वहीं, श्रेयस अय्यर 30 रन बनाकर नाबाद रहे। जवाब में कोलकाता ने 19.5 ओवर में सात विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। केकेआर की ओर से वेंकटेश अय्यर ने शानदार पारी खेली और 55 रन बनाकर आउट हुए।

कोलकाता की टीम तीसरी बार फाइनल में
इस जीत के साथ कोलकाता टीम तीसरी बार फाइनल में पहुंची है। इससे पहले टीम 2012 और 2014 में आईपीएल फाइनल में पहुंच चुकी है। इस दोनों सीजन को केकेआर ने ही जीता था। यानी कोलकाता की टीम जब भी फाइनल में पहुंची है, ट्रॉफी जीतकर ही वापस लौटी है। इस बार फाइनल में उनका सामना तीन बार की चैंपियन चेन्नई सुपर किंग्स से 15 अक्तूबर को दुबई में होगा। 2012 के फाइनल में भी दोनों टीमें खिताबी मुकाबले में भिड़ चुकी हैं, जिसे केकेआर ने जीता था।

दिल्ली की शुरुआत बेहद खराब रही
टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए दिल्ली की शुरुआत खराब रही। पृथ्वी शॉ 18 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। उन्हें वरुण चक्रवर्ती ने एलबीडब्लू किया। चोट से उबरने के बाद टीम में वापसी कर रहे मार्कस स्टोइनिस भी कुछ खास नहीं कर सके। वे 18 रन बनाकर शिवम मावी की गेंद पर क्लीन बोल्ड हुए। 14 ओवर तक दिल्ली की टीम 80 रन के आसपास ही बना सकी थी।

कई बल्लेबाजों ने विकेट तोहफे में दिए

इसके बाद धवन भी रन रेट बढ़ाने के चक्कर में अपना विकेट गंवा बैठे। उन्हें वरुण ने शाकिब के हाथों कैच कराया। धवन 39 गेंदों पर एक चौका और दो छक्के की मदद से 36 रन ही बना सके। कप्तान ऋषभ पंत सिर्फ छह रन बनाकर लॉकी फर्ग्यूसन की गेंद पर राहुल त्रिपाठी को कैच दे बैठे। इसके बाद शिमरॉन हेटमायर ने श्रेयस अय्यर के साथ मिलकर पारी संभालनी चाही। दोनों ने पांचवें विकेट के लिए 27 रन जोड़े।

श्रेयस ने सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया
हालांकि, हेटमायर 10 गेंदों पर दो छक्के की मदद से 17 रन बनाकर रन आउट हो गए। श्रेयस अय्यर ने 27 गेंदों पर 30 रन की नाबाद पारी खेल दिल्ली को 135 रन के टोटल तक पहुंचाया। कोलकाता की ओर से वरुण ने दो विकेट झटके। वहीं, लॉकी फर्ग्यूसन और शिवम मावी को एक-एक विकेट मिला।

वेंकटेश-शुभमन ने शानदार शुरुआत दिलाई

136 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलकाता टीम को एकबार फिर वेंकटेश अय्यर और शुभमन गिल ने शानदार शुरुआत दिलाई। दोनों ने 12 ओवर में 92 रन जोड़ डाले। इस दौरान वेंकटेश ने आईपीएल करियर की तीसरी फिफ्टी लगाई।

वेंकटेश अय्यर 55 रन बनाकर आउट हुए
13वें ओवर में कगिसो रबाडा की गेंद पर वेंकटेश सब्सटिट्यूट फील्डर स्टीव स्मिथ को कैच थमा बैठे। वे 41 गेंदों पर 55 रन बनाकर आउट हुए। अपनी पारी में वेंकटेश ने चार चौके और तीन छक्के लगाए। वेंकटेश इस सीजन में नौ मैचों में 320 रन बना चुके हैं। वेंकटेश और शुभमन के बीच पहले विकेट के लिए 96 रन की साझेदारी हुई।

16वें ओवर में दिल्ली ने की वापसी

एक वक्त कोलकाता को 30 गेंदों में 23 रन बनाने थे। 16वें ओवर में दिल्ली की टीम ने वापसी की। कोलकाता ने आठ रन बनाने में पांच विकेट गंवा दिए। नीतीश राणा (13), शुभमन (46), दिनेश कार्तिक (0), इयोन मॉर्गन (0) और शाकिब (0) कुछ खास नहीं कर सके। 16वें ओवर में एनरिक नॉर्ट्जे ने नीतीश को पवेलियन भेजा।

इसके अगले ओवर में शुभमन 46 रन बनाकर अवेश खान की गेंद पर पंत को कैच थमा बैठे। यह इस सीजन में अवेश का 24वां विकेट रहा। इसके बाद आखिरी 18 गेंदों पर कोलकाता को 11 रन चाहिए थे। 18वें ओवर में रबाडा ने एक रन दिया और कार्तिक को क्लीन बोल्ड किया।

आखिरी 12 गेंदों पर केेकेआर को 10 रन चाहिए थे। 19वें ओवर में नॉर्टजे ने तीन रन दिए और मॉर्गन को क्लीन बोल्ड किया। 20वें ओवर में कोलकाता को जीत के लिए 7 रन चाहिए थे। पहली गेंद पर अश्विन ने एक रन दिया। दूसरी गेंद पर कोई रन नहीं बना। तीसरी और चौथी गेंद पर अश्विन ने शाकिब और सुनील नरेन को पवेलियन भेजा।

पांचवीं गेंद पर त्रिपाठी ने छक्का लगाकर कोलकाता को जीत दिला दी। दिल्ली की ओर से नॉर्टजे, रबाडा और अश्विन को दो-दो विकेट मिले। वहीं, अवेश को एक विकेट मिला। इस हार के साथ दिल्ली का सफर समाप्त हो गया। यह लगातार तीसरा सीजन है जब दिल्ली की टीम प्लेऑफ में तो पहुंची है, लेकिन खिताब नहीं जीत सकी है।
दोनों टीमों की प्लेइंग XI

दिल्ली कैपिटल्स: पृथ्वी शॉ, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, ऋषभ पंत (कप्तान और विकेटकीपर), शिमरोन हेटमायर, मार्कस स्टोइनिस, अक्षर पटेल, रविचंद्रन अश्विन, कागिसो रबाडा, एनरिक नोर्त्जे, आवेश ख़ान
कोलकाता नाइट राइडर्स: शुभमन गिल, वेंकटेश अय्यर, राहुल त्रिपाठी, नितीश राणा, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), इयोन मॉर्गन (कप्तान), शाकिब अल हसन, सुनील नरेन, लॉकी फ़र्ग्युसन, वरुण चक्रवर्ती, शिवम मावी

error: Content is protected !!