शमिता शेट्टी बनीं बिग बॉस 15 की पहली कैप्टन, नॉमिनेशन से हुईं सुरक्षित

दक्षिणापथ। बिग बॉस 15 अभी शुरू ही हुआ है और अभी से इसमें भरपूर ड्रामा देखने को मिल रहा है। पहले ही हफ्ते में प्रतियोगियों के बीच तकरार देखने को मिली। इसी बीच दर्शक इंतजार में थे कि शो का पहला कैप्टन कौन होगा? अब बिग बॉस 15 को अपना पहला कैप्टन भी मिल गया है। कैप्टेंसी की पावर शमिता शेट्टी को मिली है, जिसके बाद उनके साथ-साथ उनके प्रशंसक भी फूले नहीं समा रहे हैं।
जैसा कि हम जानते हैं कि जिस प्रतियोगी को कैप्टेंसी मिलती है, वह आने वाले हफ्ते में नॉमिनेशन की प्रक्रिया से बच जाता है और यही एक बड़ी वजह है कि सभी प्रतियोगियों के लिए कैप्टेंसी बहुत जरूरी होती है। कैप्टेंसी टास्क घरवालों निशांत भट्ट, प्रतीक सहजपाल और शमिता के बीच था, जिसमें शमिता ने बाजी मार ली। उन्हें बिग बॉस 15 के घर का पहला कैप्टन घोषित कर दिया गया। इसके बाद शमिता की खुशी का ठिकाना नहीं रहा।
ट्विटर पर शमिता के कैप्टन बनने पर एक फैन ने लिखा, शमिता में एक खूबी है कि वह हमेशा सच का साथ देती हैं। विधि पांड्या का साथ देने के लिए शमिता ने निशांत और प्रतीक के खिलाफ जाने में गुरेज नहीं किया। एक ने लिखा, शमिता में वो सारी खूबियां हैं, जो एक बिग बॉस के विजेता बनने के लिए चाहिए होती हैं। एक ने लिखा, वाह क्या शानदार गेम खेल रही हैं शमिता। वह सचमुच गेम चेंजर हैं।
बिग बॉस ओटीटी में भी शमिता ने दर्शकों का दिल जीत लिया था। तभी तो वह टॉप 3 में अपनी जगह बनाने में कामयाब रहीं। शमिता बिग बॉस ओटीटी की दूसरी रनरअप थीं। राकेश बापट के साथ शमिता की दोस्त भी सुर्खियों में रही। शमिता ने शो में एंट्री अपने मशहूर गाने लहराके बलखाके से की थी। बिग बॉस ओटीटी का खिताब दिव्या अग्रवाल ने अपने नाम किया था। यह शो 8 अगस्त से वूट पर शुरू हुआ था।
बिग बॉस का प्रसारण कलर्स चैनल पर होता है। यह लोकप्रिय शो अमेरिकी टीवी रियलिटी शो बिग ब्रदर प्रारूप का अनुसरण करता है। घर के मालिक को बिग बॉस के नाम से जाना जाता है, जिनकी घर में उपस्थिति उनकी आवाज से है। बिग बॉस की सफलता अब 15वें सीजन में कदम रख चुकी है। बता दें कि रुबीना दिलैक शो के पिछले सीजन की विजेता थीं। बिग बॉस का पहला सीजन 2006 में आया था।

error: Content is protected !!