उत्तर प्रदेश सरकार ने बघेल को लौटाया : CM भूपेश बघेल ने 3 घंटे तक एयरपोर्ट पर धरना दिया, गिरफ्तारी की चुनौती भी दी; नहीं माने अफसर, वापस दिल्ली गए

उत्तर प्रदेश सरकार ने बघेल को लौटाया :  CM भूपेश बघेल ने 3 घंटे तक एयरपोर्ट पर धरना दिया, गिरफ्तारी की चुनौती भी दी; नहीं माने अफसर, वापस दिल्ली गए
RO No.12784/129

RO No.12784/129

RO No.12784/129

दक्षिणापथ, पाटन। ग्राम सेमरी में चल रहे बालयोगी विष्णु अरोड़ा के भागवत महायज्ञ के पांचवे दिन कृष्ण जन्म की कथा सुनाई। उन्होंने कहा कि तन मथुरा है, तन में ईश्वर के अवतरण के लिए त्याग रूपी देवकी व तपस्या रूपी वसुदेव चाहिए। कथावाचक श्री अरोड़ा ने कहा कि मन ही गोकुल है। प्रेम व भक्ति से मन मे परमात्मा उतरते है। नंद प्रेम तथा यशोदा भक्ति के प्रतीक हैं। तपस्या,त्याग, प्रेम व भक्ति ईश्वर प्राप्ति के सूत्र हैं। इसके पूर्व बालयोगी विष्णु अरोड़ा ने वर्मा परिवार के तत्वावधान में आयोजित भागवत महापुराण में कंस जन्म के बारे में विस्तार से बताया। कंस का जन्म कृष्ण से पहले हुआ। इसी तरह रावण का जन्म भी राम के पहले हुआ। कृष्ण रात को 12 बजे जन्म लिए, तो राम दिन के 12 बजे अवतरित हुए। कृष्ण पूर्ण परमेश्वर थे। ग्राम सेमरी में चल रहे नवधा भागवत कथा में प्रतिदिन हजारों की संख्या में भक्त वत्सल श्रोता जुट रहे है। कथा हर दिन 3 से 6 बजे चल रही है।