जनधन खातों से कभी भी निकालें पैसा, अकाउंट नहीं होगा ब्लॉक: एसबीआई

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन के चलते गरीब और मजदूर ज्यादा परेशान है। उनकी मदद करने के लिए सरकार गरीब कल्याण योजना के तहत जनधन खाताधारक महिलाओं, गरीब बुजुर्गों, गरीब विधवाओं और गरीब दिव्यांगों के खाते में अप्रैल, मई और जून तीन माह के लिए सहयोग राशि भेज रही है, जिसके लिए लोग भगदड़ कर बैंक पहुंच रहे हैं और पैसे निकालने के लिए लम्बी लाइन लगा रहे हैं। इस दिशा में सरकार की ओर से प्रधानमंत्री जनधन योजना की 20 करोड़ से ज्यादा महिला खाताधारकों के खाते में 500 रुपये जमा कर दिए गए हैं। यह किस्त अप्रैल माह की है। 500-500 रुपए की और दो किस्तें मई और जून में भी आएंगी। इस बारे में एसबीआई ने भी कहा है कि सरकार की ओर से लाभार्थियों के खाते में आया पैसा उनका है और यह ब्लॉक नहीं होगा, न ही सरकार इसे वापस लेगी। इसलिए अफवाहों के प्रभाव में आकर इसे निकालने की हड़बड़ी न करें। सामा‎जिक दूरी का खयाल रखें। खाताधारक अपनी सुविधानुसार जब भी चाहें, इस पैसे को निकाल सकते हैं। ​वित्त मंत्रालय के वित्तीय सेवा विभाग ने ट्वीट कर लोगों से किसी भी अफवाह के झांसे में न आने की अपील की है। विभाग की ओर से कहा गया है कि खाते में आए पैसे लाभार्थी के हैं और वह इसे अपनी सुविधा अनुसार निकाल सकता है। अगर खाताधारक इस पैसे को अभी नहीं निकालना चाहता तो आगे चलकर कभी भी निकाल सकता है। गरीब कल्याण योजना के तहत गरीब बुजुर्ग, गरीब विधवा और गरीब दिव्यांगों को अगले तीन महीनों तक 1000 रुपए अतिरिक्त मिलेंगे। ये दो​ किस्तों में डीबीटी के जरिए उनके बैंक खाते में जाएंगे। सरकार ने यह भी कहा था कि पीएम किसान योजना के ​तहत 8.70 लाख किसानों के खातों में 2000 रुपए की किस्त अप्रैल के पहले सप्ताह में डाल दी जाएगी। इसके अलावा मनरेगा में दिहाड़ी बढ़ाकर 202 रुपए कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!