देवकर नगर मे जैन धर्म का सबसे बड़ा पर्व पर्यूषण महापर्व धूमधाम के साथ सम्पन्न…

देवकर नगर मे जैन धर्म का सबसे बड़ा पर्व पर्यूषण महापर्व धूमधाम के साथ सम्पन्न…
Ro No. 12294/64

Ro No. 12276/69

Ro No. 12276/69
Ro No. 12294/64

Ro No. 12276/69

Ro No. 12276/69
Ro No. 12294/64

Ro No. 12276/69

Ro No. 12276/69
अंताल्या । रिद्धि और तरुणदीप राय की रिकर्व मिक्सड टीम ने यहां तीरंदाजी विश्व कप के पहले चरण में दो स्वर्ण पदक जीतकर अपने अभियान को समाप्त किया। भारत ने स्वर्ण पदक के इस करीबी मुकाबले में चौथे सेट के अंत में स्कोर 4-4 से बराबरी करने के बाद 18-17 शूट-ऑफ (निशाने में) में ब्रिटेन को हराया। रिद्दि और रॉय ने पहली बार एकसाथ किसी मुकाबले में भाग लिया। जीत के बाद राय ने कहा, यह पहली बार है कि हम दोनों एक साथ खेला है, वह सिर्फ 17 साल की है और उसका भविष्य उज्ज्वल है। रिद्दि के साथ अनुभव काफी अच्छा रहा और हर बार निशाने लगाते हुए मैनें इच्छा जतायी की भारतीय टीम स्वर्ण पदक जीते। विश्व कप का खिताब जीतना एक बड़ी उपलब्धि है और यह अनुभव एशियन खेलों में पदक जीतने में हमारी मदद करेगा। रिद्दि ने कहा, यह पहली बार नहीं है जब मैं कोई फाइन खेल रही हूं, मैं अपना पहला विश्व कप खेल रही हूं। मैं यहां फाइनल खेलने के लिए उत्साहित थी और किसी सीनियर टूर्नामेंट में यह मेरा अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था। भारत जोड़ी की शुरूआत खराब रही । टीम ने दूसरे दौर में यूक्रेन के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत की और 6-2 से जीत दर्ज की। भारत का यह प्रदर्शन क्वाटरफाइनल में पोलैंड को 5-1 से हराकर और सेमीफाइनल में स्पेन को 5-3 से हराकर बरकरार रहा। इससे पहले शनिवार को अभिषेक वर्मा, अमन सैनी और रजत चौहान की पुरुष कंपाउंड टीम ने रोमांचक मुकाबले में फ्रांस को 232-230 से हराकर स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। अभिषेक और मुस्कान किरार की मिकस्ड टीम क्रोएशिया से 156-157 से हारकर कांस्य पदक अपने नाम करने से चूक गयी थी।