‎‎मार्च में रत्न एवं आभूषण निर्यात गिरकर रहा आधा

‎‎मार्च में रत्न एवं आभूषण निर्यात गिरकर रहा आधा

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

आदतन शराबी पिता ने आर्थिक तंगी के चलते बच्चों को कोरोना की दवाई बताकर जहर पिला दिया. बच्चों को जहर देने के बाद शराबी पिता ने अपनी पत्नी को भी जहर दे दिया. परिवार के सभी लोग जहर पीकर ख़ुदकुशी के प्रयास में थे. समय रहते मामले की जानकारी मिलते ही सबको अस्पताल में भर्ती कराया गया है. गनीमत है कि परिवार में किसी की मौत नहीं हुई है. हालाँकि परिवार के चार लोगों की हालत गंभीर है.
रायपुर/खरोरा. आदतन शराबी पिता ने आर्थिक तंगी के चलते बच्चों को कोरोना की दवाई बताकर जहर पिला दिया. बच्चों को जहर देने के बाद शराबी पिता ने अपनी पत्नी को भी जहर दे दिया. परिवार के सभी लोग जहर पीकर ख़ुदकुशी के प्रयास में थे. समय रहते मामले की जानकारी मिलते ही सबको अस्पताल में भर्ती कराया गया है.
गनीमत है कि परिवार में किसी की मौत नहीं हुई है. हालाँकि परिवार के चार लोगों की हालत गंभीर है. मिली जानकारी के मुताबिक खरोरा के ग्राम पंचायत केसला निवासी प्रेम नारायण देवांगन आदतन शराबी है. उसने शराब की पूर्ति के लिए बहुत लोगों से कर्ज लिया था. कर्ज चुकाने उसने घर की जमीन बेच दिया था. कोरोनाकाल में ये परिवार तंगी से बेहद परेशान था.
आर्थिक तंगी के चलते प्रेम नारायण देवांगन ने परिवार सहित ख़ुदकुशी करने का प्लान बना लिया. प्रेम नारायण ने अपने तीनों बच्चों को कोरोना की दवाई बताकर जहर दे दिया. बच्चों को जहर देने के बाद प्रेम नारायण और उसकी पत्नी ने भी जहर का सेवन कर लिया. परिवार के सभी लोगों का इलाज जारी है. परिवार में एक बच्चे की हालत स्थिर है, बाकी चारों की हालत गंभीर है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.