धनबाद से आकर रहने वाली अध्ययनरत कुछ छात्राओं के पास राशन लेने के लिए नहीं थे पैसे, निगम से मिली मदद पहुंचा राशन

धनबाद से आकर रहने वाली अध्ययनरत कुछ छात्राओं के पास राशन लेने के लिए नहीं थे पैसे, निगम से मिली मदद पहुंचा राशन

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

दक्षिणापथ। उल्टी आम तौर पर गंभीर स्वास्थ्य समस्या नहीं है। अक्सर यह अस्थायी समस्या से जुडी आपके शरीर की प्रतिक्रिया होती है। उल्टी से जुड़े कुछ आम कारण हैं जैसे ज़्यादा खा लेना, बहुत अधिक शराब पी लेना, पेट में फ्लू, तनाव, गर्भावस्था आदि शामिल हैं। उल्टी रोकने का उपाय है अदरक- अदरक आपके पाचन तंत्र के लिए बहुत फायदेमंद होता है और और उल्टी को रोकने के लिए एक प्राकृतिक दवा के रूप में काम करता है। अदरक का कैसे करें इस्तेमाल- एक चम्मच अदरक का जूस और एक चम्मच नींबू का जूस मिला लें। अब इस मिश्रण को पूरे दिन में कई बार पीने की कोशिश करें। इसके अलावा अदरक से बनी चाय में थोड़ा शहद डालें और मिलाकर पी लें। अब अदरक के छोटे छोटे टुकड़ों को शहद के साथ या बिना खा सकते हैं। जी मिचलाने पर करें चावल के पानी का उपयोग- चावल का पानी उल्टी को कम करने में मदद करता है खासकर तब जब पेट में सूजन होती है। चावलों का पानी तैयार करने के लिए ब्राउन चावलों की बजाए सफ़ेद चावल चुने क्योंकि यह स्टार्च से समृद्ध होते हैं और पचाने में भी आसान होते हैं। चावलों के पानी का इस्तेमाल कैसे करें- एक से आधा कप पानी में चावलों का एक कप उबालें। उबालने के बाद इसे छान लें। अब चावलों के पानी को पी लें। उल्टी को रोकने का उपाय है दालचीनी- सिनेमन को दालचीनी भी कहा जाता है। जिसकी मदद से पेट शांत रहता है साथ ही मतली और उल्टी का भी इलाज होता है। दालचीनी का इस्तेमाल कैसे करें- एक कप गर्म पानी में एक या आधा चम्मच दालचीनी पाउडर डालें। अगर आपके पास पाउडर नहीं है तो बस दालचीनी की लकड़ी का इस्तेमाल कर सकते हैं। अब इस पानी को कुछ मिनट तक उबलते रहने दें। फिर इस मिश्रण को छान लें। आप इसमें एक चम्मच शहद भी मिला सकते हैं। अब इस मिश्रण को आराम आराम से पियें।