कोरोना: भारत में कुल मामलो में सबसे ज्यादा 20 से 40 की उम्र के लोग 42 फीसदी

नई दिल्ली। कोरोना वायरस संक्रमण के शिकार लोगों में एक अलग ट्रेंड भारत में सामने आ रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक यूरोप और पूरी दुनिया से ठीक अलग भारत में सबसे ज्यादा बुजुर्ग नहीं बल्कि बीच वाली उम्र और कम उम्र के लोग संक्रमण के शिकार हो रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के मुताबिक जीरो से 20 साल की उम्र के 9 फीसदी मामले भारत में संक्रमण के सामने आए हैं। इसी तरह से 20 से 40 की उम्र के 42 फीसदी संक्रमण के केस भारत में सामने आ रहे हैं, जबकि 40 से 60 साल की उम्र के 33% संक्रमण के मामले भारत में सामने आए हैं और 7 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के मामले से 17 फीसदी हैं। अभी तक जो भी संक्रमण के केस भारत में है, उनमें से 58 क्रिटिकल हालत में है।
स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि हर स्तर पर लोजिस्टिक्स उपलब्ध कराने का सरकार पूरा प्रयास कर रही है। गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने तबलीगी जमात से जुड़े संक्रमण के मामलों को लेकर कहा कि अभी तक तबलीगी जमात से जुड़े 22000 लोगों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। इनमें से एक हजार 23 लोगों में संक्रमण के मामले कंफर्म हो चुके हैं। लव अग्रवाल ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्रालय ने गाइडलाइन जारी की है। उन्होंने कहा कि परिवार में भी अपना फेस कवर या मास्क किसी से शेयर ना करें। आईसीएमआर की तरफ से और गंगाखेड़कर ने कहा कि अभी तक 75000 लोगों के टेस्ट किए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!