कोरोना: अमेरिका में दो दिन में दोगुना हुआ मौतों का आंकड़ा

 9/11 हमले की तरह सड़कों पर भाग रही एम्बुलेंस
वॉशिंगटन। कोरोना वायरस के कहर से अमेरिका में हालात अब बेहद खराब होते जा रहे हैं। मात्र दो दिन में ही मौतों का आंकड़ा दो गुना हो गया है। आलम यह है कि इस महामारी से बेहद प्रभावित न्‍यूयॉर्क शहर में एम्बुलेंस 9/11 हमले की तरह से सड़कों पर भाग रही हैं। इस बीच अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने चेतावनी दी है कि आने वाले दो सप्‍ताह में देश में सबसे ज्‍यादा मौतें होंगी। बताया जा रहा है कि मौतों का यह आंकड़ा दो लाख को पार कर सकता है। एक र‍िपोर्ट के मुताबिक ट्रंप के सलाहकारों ने कहा है कि कोरोना वायरस से कम से कम दो लाख लोगों की जान जा सकती है। वह भी तब जब अमेरिका इस वायरस को रोकने के लिए बेहद कड़े उठाएगा। नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ एलर्जी ऐंड इन्फेक्शन डिजिज के डायरेक्टर डॉ. एंथनी फौसी का अनुमान बेहद डराने वाला है। उन्होंने कहा कि अगले कुछ दिनों में अमेरिका में लाखों लोग कोविड19 की चपेट में आ जाएंगे। यह वायरस एक लाख से दो लाख लोगों की मौत का कारण बन सकता है।
सलाहकारों की इस चेतावनी के बाद ट्रंप ने कहा कि वह सोशल डिस्‍टेसिंग की गाइडलाइन को 30 अप्रैल तक बढ़ा रहे हैं। अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप ने चेतावनी दी है कि आने वाले दो हफ्ते में अमेरिका में सबसे ज्‍यादा मौतें होंगी। व्‍हाइट हाउस में ट्रंप ने कहा कि अमेरिका इस संकट से एक जून तक उबर जाएगा। दो शीर्ष जन स्वास्थ्य सलाहकारों और कोरोना वायरस पर व्हाउट हाउस कार्यबल के सदस्यों डॉ. देबोरा बिक्स और डॉ एंथनी फॉसी की सलाह के आधार पर उन्हें सामाजिक मेलजोल से दूरी संबंधी उपायों की अवधि 30 अप्रैल तक बढ़ानी होगी। ट्रंप का कहना है कि जिन बचाव उपायों को हम लागू कर रहे हैं वे काफी हद तक संक्रमण के नए मामलों और असमय हो रही मौतों की संख्या घटा सकते हैं। मैं चाहता हूं कि अमेरिका के लोग यह जानें कि आपके नि:स्वार्थ एवं साहसिक प्रयास देश में कई जानें बचा रहे हैं। आप बदलाव ला रहे हैं। अनुमान दर्शाते हैं कि दो हफ्तों में मृत्यु दर बेहद ऊंचाई पर पहुंच जाएगी।
उन्होंने कहा कि सामाजिक दूरी को लेकर नए दिशा-निर्देशों की घोषणा एक अप्रैल को की जाएगी। न्‍यूयॉर्क शहर में ही इस महामारी से एक हजार से ज्‍यादा लोग मारे गए हैं। यही नहीं कोरोना वायरस महामारी की वजह से अमेरिका में पहली बार किसी नवजात की मौत का मामला सामने आया है। शनिवार को शिकागो में इस महामारी से संक्रमित एक साल से कम उम्र के बच्चे ने दम तोड़ दिया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इसी हफ्ते की शुरुआत में दो महीने का बच्चा कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था, लेकिन इस बीमारी से मरने वाला यह सबसे कम उम्र का अमेरिकी बच्चा है।
सतीश मोरे/30मार्च

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!