ब्रिटिश अस्पतालों से हैंड सैनेटाइजर चोरी कर रहे कोरोना के इलाज या टेस्ट के लिए पहुंचे मरीज

लंदन । ब्रिटेन के अस्पतालों में कोरोना का इलाज या टेस्ट कराने पहुंच रहे लोग हैंड सैनेटाइजर चोरी कर रहे हैं। इससे हॉस्पिटल स्टाफ को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अस्पताल के स्टाफ ने लोगों से अपील की है कि वे ऐसा न करें। गौरतलब है कि कोरोना आउटब्रेक के बाद से ही दुनियाभर के स्टोर हैंड सैनेटाइजर से खाली हो गए हैं। ऑनलाइन मार्केट से लेकर दवा की दुकानों तक सैनेटाइजर की कमी देखी जा रही है। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार कुछ अस्पतालों में पाया गया है कि मरीज सैनेटाइजर अपने बेड में छुपा ले रहे हैं। कुछ मरीजों ने सैनेटाइजर अस्पताल से मिली आलमारी में छुपा दिया था। लंदन के एक अस्पताल के कैंसर वार्ड में करने वाले एक स्वास्थकर्मी ने ट्वीट किया है- भरोसा नहीं हो रहा है लेकिन मुझे आपसे कहना है कि अस्पताल आएं तो हैंड सैनेटाइजर अपने साथ लेकर न जाएं। स्वास्थ्यकर्मी ने लोगों को समझाया है कि सैनेटाइजर की जरूरत हमें ज्यादा है।
वहीं एक अन्य अस्पताल के स्टाफ ने कड़े शब्दों ने कहा है-अस्पतालों से हैंड सैनेटाइजर चुराना बंद होना चाहिए। अस्पताल में मौजूद स्टाफ आपसे कहीं ज्यादा खतरे में है। उसे आम लोगों से ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। एक डॉक्टर ने ट्वीट कर लोगों को समझाया है, मैं समझता हूं कि आप लोग डरे हुए हैं, लेकिन प्लीज अस्पतालों से अल्कोहल हेड जेल मत चुराइए। आप लोग अस्पताल स्टाफ की जिंदगी खतरे में डाल रहे हैं। हमें भी आपके सहयोग की जरूरत है। दरअसल कोरोना वायरस को लेकर फैले डर ने लोगों को असहज कर दिया है। बाजारों से हैंड सैनेटाइजर गायब होने से भी लोगों में भ्रम पैदा हुए हैं। अस्पताल के स्टाफ भी इस बात को समझते हैं। यही कारण है कि ब्रिटेन में स्वास्थ्यकर्मी लोगों को ढांढस देकर समझाने की कोशिश कर रहे हैं। ब्रिटेन यूरोप के उन देशों में है, जिनमें कोरोना तेजी से फैला है। देश की स्वास्थ्य मंत्री कोरोना का शिकार हो गई हैं। देश में 1300 से ज्यादा लोग लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं। अब तक करीब 35 लोगों की मौत हो चुकी है। सरकार ने वायरस का प्रसार रोकने के लिए नए उपायों की भी घोषणा की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!