कोरोनाः संक्रमित दिल्ली में वायरस से ग्रस्त लोगों की संख्या अब 7

नई दिल्ली। दिल्ली से सटे गुड़गांव के मानेसर स्थित आइसोलेशेन कैंप में कोरोना ग्रस्त मिला मरीज अब दिल्ली के खाते में जुड़ चुका है। साथ ही दिल्ली में कोरोना ग्रस्त मरीजों की संख्या बढ़कर सात हो चुकी है। इनमें से एक महिला मरीज ने शुक्रवार को दम तोड़ दिया था। जबकि मयूर विहार निवासी मरीज को अब छुट्टी दे दी है। फिलहाल दिल्ली के पांच कोरोना ग्रस्त मरीज सफदरजंग और आरएमएल अस्पताल में भर्ती हैं। दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के अनुसार मानेसर स्थित कैंप में एक पॉजीटिव मरीज मिला था। ये राजस्थान का मूल निवासी है लेकिन पुरानी दिल्ली के किसी इलाके में किराए से रहता है। हाल ही इटली की यात्रा से लौटने के कारण इसे आइसोलेशन पर रखा था साथ ही सैंपल जांच के लिए एम्स भेजे थे। रिपोर्ट पॉजीटिव मिलने के बाद मरीज को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती करा दिया है। अब दिल्ली में कोरोना ग्रस्त मरीजों की संख्या बढ़कर सात हो चुकी है। शनिवार को सफदरजंग अस्पताल से एक साथ छह कोरोना ग्रस्त मरीजों को छुट्टी दे दी गई है। इनमें एक मयूर विहार निवासी के अलावा नोएडा का एक और आगरा के चार मरीज शामिल हैं। डॉक्टरों के अनुसार ये स्वस्थ्य हैं लेकिन इन्हें फिलहाल घर पर आइसोलेशन में ही रहने की सलाह दी है।
सफदरजंग अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ बलविंदर सिंह ने बताया कि अस्पताल में 14 दिनों में छह मरीजों को ठीक कर घर भेज दिया गया है। हालांकि लोगों को बेहद सतर्क रहने की जरूरत है ताकि यह रोग समुदाय में फैल न पाए। अभी अस्पताल में भर्ती कुछ कोरोना पीड़ित की तबीयत में सुधार हो रहा है। 14 दिन के आइसोलेशन के बाद दो बार जांच कराएंगे। रिपोर्ट निगेटिव आने पर इन्हें छुट्टी दे दी जाएगी।
– एम्स पहुंचे 2 संदिग्ध मरीज
सूत्रों के अनुसार दिल्ली एम्स में शनिवार को कोरोना के दो संदिग्ध मरीजों को भर्ती किया है। एम्स के प्राइवेट वार्ड में इन रोगियों को भर्ती कर सैंपल जांच को लिए भेजे हैं। सोमवार को रिपोर्ट मिलने के बाद मरीजों की स्थिति को लेकर जानकारी मिल सकेगी। दोनों मरीजों में फ्लू के लक्षण दिखाई पड़ रहे हैं लेकिन जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।
– 23 संदिग्ध दो अस्पताल में
विभाग के अनुसार सफदरजंग और आरएमएल अस्पताल में कुल 23 संदिग्ध मरीज भर्ती हुए हैं। इनमें से कुछ की रिपोर्ट आने का इंतजार है।सफदरजंग में 4 पॉजीटिव और 19 संदिग्ध भर्ती हैं। वहीं आरएमएल में 1 कोरोना संक्रमित और 4 संदिग्ध मरीज हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार विदेश से आए 211 लोगों की निगरानी में रखा गया। अब तक सफदरजंग और राममनोहर लोहिया अस्पताल में 211 लोग ऐसे आए हैं जो कोरोना प्रभावित देशों से आए थे। इन लोगों में से कुछ को संदिग्ध मानकर अस्पताल में रखा गया है वहीं अन्य को घरों में निगरानी में रखा था। वहीं, कुछ को अस्पताल से छुट्टी मिल गई। अभी तक विदेश से आए 107 लोगों की जांच आरएमएल में की गई वहीं सफदजंग में 104 विदेश से आने वाले लोगों की जांच की जा चुकी है।
– जनकपुरी में 50 घर आइसोलेशन पर
दिल्ली में कोरोना से पहली मौत होने के बाद विभाग मुस्तैद हो चुका है। शनिवार को जनकपुरी इलाके में मरने वाली मरीज के घर के आसपास पचास घरों को होम आइसोलेशन पर रखा है। यहां लगभग 150 लोगों को उनके घरों में ही आइसोलेशन में रखा गया है। स्वास्थ्य टीम के शनिवार को जनकपुरी पहुंचने पर लोगों के बीच दहशत का माहौल पैदा हो गया। हालांकि टीम के अधिकारियों ने लोगों को समझाया कि उन्हें डरने की जरूरत नहीं हैं। टीम ने 50 घरों के लोगों को दो सप्ताह तक घरों में ही आइसोलेशन में रहने के लिए कहा है।विभागीय अधिकारियों के अनुसार जनकपुरी की महिला 15 लोगों के संपर्क में आई थी। इनमें उसके परिवार के आठ सदस्यों के अलावा 7 पड़ोसी हैं। परिवार के सदस्यों की जांच कराने पर उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। इसके बावजूद इन लोगों से एहतियात बरतने के लिए कहा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!