देश सेवा में लगे नौजवानों के वृद्ध दादी महेशिया बाई का कोरोना से निधन हो जाने पर पूरी जिम्मेदारी के साथ गांव वाले ने किया अंतिम संस्कार …..

स्थानीय व्यवस्था में हुआ अंतिम संस्कार
दक्षिणापथ, दुर्ग ।
ग्राम पंचायत बोराई में बढते कोरोना संक्रमण के बीच आदिवासी गोंड़ परिवार के वयोवृद्ध दंपती में श्रीमति मधेशिया बाई 80 वर्षिय का कोरोना संक्रमित होने से घर पर ही मृतु पष्चात जिला प्रशासन के नये आदेश के तहत स्थानीय पंचायत द्वारा जन सहयोग से किया गया।
ज्ञात हो कि गांव के बैगा कहे जाने वाले बुजुर्ग ढाल सिंग ठाकुर स्वयं परिवार सहित कोरोना संक्रमित हो गए हैं हालही में साथ रह रहे कोरोना पीड़ित शादीशुदा पुत्री का ईलाज के दरमियान मृत्यु हो गया था और आज घर मे ही कोरोना संक्रमित धर्मपत्नी महेशिया ठाकुर का निधन हो गया।इस परिवार का देखभाल करने वाली पुत्री के निधन के बाद घर मे कोई वारिसान मौजूद नही है।

परिवार के दोनों वारिस पौत्र सेना में कार्यरत होने से संकट उत्पन्न हो गया हैऔर आज के अंतिम संस्कार के लिए भी प्रश्न उठ रहा था कि मुखाग्नि कौन करेगा हालांकि कोरोना की गंभीरता को देखते हुए स्थानीय सरपंच प्रतिनिधि टीकम साहू ,रिवेंद्र यादव पूर्व अध्यक्ष सरपंच संघ दुर्ग ,मोहन ठाकुर ,रामकृष्ण साहू सियाराम ठाकुर ,विनोद ढीमर ,द्वारिका ठाकुर ,रामसेवक साहू ,जयंत साहू ,भुनेश्वर ठाकुर महेंद्र मेश्राम ,राजेश मेश्राम कोटवार आदि की उपस्थिति व्यवस्थित ढंग कोविड -19 प्रोटोकॉल के तहत अलग से निर्धारित किये गए स्थान पर अंत्येष्टि किया गया।

देश सेवा में लगे नौजवानों के वृद्ध दादी महेशिया बाई का कोरोना से मृत्यु हो जाने पर पूरी जिम्मेदारी के साथ गांव वाले ने किया अंतिम संस्कार ।

error: Content is protected !!