यस बैंक: फाउंडर राणा कपूर गिरफ्तार

कोर्ट में पेश किया जाएगा, करीब 30 घंटे तक पूछताछ
मुंबई। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने रविवार तड़के दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (डीएचएफएल) से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में यस बैंक के को-फाउंडर राणा कपूर को गिरफ्तार कर लिया। ईडी अधिकारियों ने उनसे करीब 30 घंटे की पूछताछ की जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। राणा कपूर को रविवार सुबह करीब 11 बजे कोर्ट में पेश किया जाएगा। ईडी ने शनिवार को वर्ली में राणा कपूर के समुंद्र महल आवास में अपनी जांच जारी रखी। ईडी इस बात की जांच कर रहा है कि क्या यस बैंक प्रमोटर राणा कपूर और उनकी दो बेटियों की डमी कंपनी अर्बन वेंचर्स को घोटालेबाजों से 600 करोड़ रुपए मिले थे। भ्रष्टाचार में लिप्त डीएचएफएल ने बैंक द्वारा दिए गए 4,450 करोड़ रुपए के लिए इस कंपनी को पैसे दिए थे, जिसकी जांच की जा रही थी। ईडी अधिकारियों ने कहा कि यस बैंक ने डीएचएफएल को 3,750 करोड़ रुपए का ऋण और डीएचएफएल द्वारा नियंत्रित फर्म आरकेडब्ल्यू डेवलपर्स को 750 करोड़ रुपये का एक और ऋण किया था। ईडी को इस बात का संदेह है कि 4,450 करोड़ रुपए की यह राशि, उस 13,000 करोड़ रुपए का हिस्सा है जो डीएचएफएल की ओर से 79 डमी कंपनियों को कथित तौर पर दी गई। इन्ही कंपनियों में अर्बन वेंचर्स भी शामिल है।
24 घंटे काम कर रही एसबीआई टीम
एसबीआई के प्रमुख रजनीश कुमार ने शनिवार को कहा कि संकटग्रस्त यस बैंक के पुनर्गठन के लिए जिस योजना का मसौदा मिला है, उसका एसबीआई की निवेश और कानूनी टीम सावधानी से अध्ययन कर रही है। देश के सबसे बड़े बैंक के प्रमुख कुमार ने खाताधारकों को भरोसा देते हुए एसबीआई प्रमुख ने कहा, घबराने के जरूरत नहीं है। रजनीश कुमार ने कहा, यस बैंक के हालात से सभी वाकिफ हैं। रिजर्व बैंक के पुनर्गठन मसौदा प्रस्ताव पर हमारी निवेश और कानूनी टीम 24 घंटे दिन-रात काम कर रही है। एसबीआई बोर्ड ने यस बैंक में 49 फीसदी की हिस्सेदारी लेने के लिए अपनी सहमति जताई है। एसबीआई ने स्टॉक एक्सचेंज को सूचित किया है कि भारतीय स्टेट बैंक यस बैंक में 49 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने पर विचार कर रहा है।
यस बैंक में सभी की नौकरी सुरक्षित
यस बैंक के पुनर्गठन को लेकर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपनी स्कीम पर काम करना शुरू कर दिया है। एसबीआई की तरफ से बयान जारी कर कहा गया कि यस बैंक के कर्मचारियों को घबराने की जरूरत नहीं है, उनकी नौकरी सुरक्षित है। हालांकि इंक्रीमेंट के मौसम में उन्हें निराशा हाथ लगेगी और एक साल तक वर्तमान सैलरी पर ही काम करना होगा। एसबीआई ने कहा कि वह यस बैंक का 245 करोड़ शेयर जारी करेगा। हर शेयर की कीमत 10 रुपये होगी। इस तरह वह 2450 करोड़ रुपए का फंड इक_ा करेगा। एसबीआई 2450 करोड़ रुपए से यस बैंक में 49 फीसदी स्टेक खरीदेगा।
एसएस/08मार्च/ईएमएस

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!