सभी चेकपोस्ट पर और अधिक सघनता से होगी चेकिंग

-पात्रता में आने वाले लोगों को 4 दिन के अंदर किया जाएगा कोरोना टीकाकरण
-कलेक्टर ने नगरीय निकायों के साथ ही कोरोना के चपेट में आने वाले ग्रामों में सैंपलिंग बढ़ाने कहा
दक्षिणापथ, दुर्ग।
जिले में बढ़ रहे कोरोना के प्रभाव को रोकने के लिए हर संभव प्रयास जारी है। इससे निपटने के लिए अब तक किये जा रहे प्रभावी प्रयासों को और अधिक प्रभावी बनाया जाएगा। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेन्द्र भुरे ने यह बात कोरोना नियंत्रण को लेकर आयोजित बैठक में कही। उन्होंने जिले के सभी नगरीय निकाय और अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों सहित जनपद पंचायत के अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। अभी वर्तमान में 14 अप्रैल तक के लिए जिले में संपूर्ण लॉकडाउन किया गया है। जिसमें जिले की सीमा से अन्य जिलों या बाहर से आने वाले लोगों पर रोक लगाया गया है। जरूरी कार्य के आधार पर ई- पास जारी किए जा रहे हैं। सीमा के चेकपोस्ट लगातार सघन चेकिंग करें।
निकाय क्षेत्र के साथ ही ऐसे ग्राम जहां कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं, उन जगहों पर सैम्पलिंग बढ़ाने के निर्देश कलेक्टर ने दिये हैं। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों में 5 से अधिक मरीज मिलने पर सर्विलेंस करें। बैठक में निकाय के अधिकारियों से मरीजों की संख्या, प्रतिदिन की टेस्टिंग संख्या और किये जा रहे वैक्सिनेशन की जानकारी भी ली। अधिकारियों से कहा कि टारगेट में रखे गए लोगों के वैक्सीनेशन का कार्य अगले 4 दिन में पूर्ण करें। जहां जितनी वैक्सीन की जरूरत होगी मांग के आधार पर उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए वैक्सीन प्रभारी अधिकारी को प्रतिदिन वैक्सीनेशन की जानकारी लेकर मांग अनुसार उपलब्ध कराने कहा है। औद्योगिक क्षेत्रों में भी सभी कोरोना संदिग्ध लोगों की सैंपलिंग के साथ-साथ वैक्सीनेशन बढ़ाने कहा है। जिले में कोरोना के रोकथाम के प्रयासों को तेज करने और प्रभावी बनाने के लिए जिले में कम्युनिटी सर्विलांस का दायरा बढाया जाएगा।

error: Content is protected !!