लाकडाउन में दो व्यक्ति बाड़ी से सब्जी और फैक्ट्री से कोल्डड्रिंक लाते मिले, दोनों को भरना पड़ा जुर्माना….

लाकडाउन में दो व्यक्ति बाड़ी से सब्जी और फैक्ट्री से कोल्डड्रिंक लाते मिले, दोनों को भरना पड़ा जुर्माना….

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

Ro No. 12111/89

दक्षिणापथ, रायपुर। ऑल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष क्षितिज चंद्राकर ने नीट परीक्षा को लेकर केंद्र सरकार का आड़े हाथों लिया। अध्यक्ष चंद्राकर ने कहा की हमारे छात्र देश का भविष्य है, इनकी सुरक्षा मोदी सरकार का दायित्व है, लेकिन इन्हें छात्रों पर सिर्फ लाठियां चलवानी आती है। सबसे पहले तो सरकार देश के छात्रों से माफी मांगे, अन्यथा मुझे यकीन है युवा शक्ति उन्हें अगले चुनाव में सत्ता से शून्य करेगी, तब जाकर सत्ता का नशा उतरेगा। यदि केंद्र की मोदी सरकार में थोड़ी भी नैतिकता है तो वे सामने आकर देश को संबोधित करें और कहें की जो भी छात्र ऐसी परीक्षाओं के दौरान कोरोना संक्रमित होगा उनकी हर तरह से सहायता की जाएगी। आज देश की जीडीपी दर अपने नीचले स्तर और बेरोजगारी दर सबसे ऊंचे स्तर पर है, लेकिन देश के प्रधानमंत्री अपना तथाकथित 56 इंच का सीना लेकर कोई बयान नहीं दे रहे। जब भारत में 1000 संक्रमित भी नहीं थे तब रोज प्रेस कॉन्फ्रेंस होती थी, क्या कारण है की आज प्रधानमंत्री और ऊंचे पदो पर बैठे उनके लोग चुप हैं। छत्तीसगढ़ में मिली करारी हार का बदला केंद्र सरकार फंड जारी न करके ले रही है। 8 सौ करोड़ मांगने पर 85 करोड़ देकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन सिंह जी क्या साबित करना चाहते हैं। मैं आपको बताना चाहता हूं की आप छत्तीसगढ़ सरकार से बदला नहीं ले रहे हैं बल्कि हर छत्तीसगढ़ी का अपमान कर रहे हैं। अगले चुनाव में आपको इसका फल भुगतना पड़ेगा।