दुर्ग जिले में लॉकडाउन का दूसरा दिन, बाजारों में पसरा सन्नाटा, सड़के रही विरान

दक्षिणापथ, दुर्ग। दुर्ग जिले में 14 अप्रैल तक सख्त लॉकडाउन प्रभावशील है। बुधवार को लॉकडाउन का दूसरा दिन था। जिसके चलते शहर के इंदिरा मार्केट के अलावा अन्य बड़े मार्केटों में सन्नाटा पसरा रहा, वहीं प्रमुख सड़कों पर विरानी छाई रही। केवल जरुरी कार्य से ही लोग घरों से निकले और कार्य निपटाने के फौरन बाद घर के लिए भी रवाना हो गए। बेवजह घूमने वालों के खिलाफ पुलिस आज भी सख्त रही। ऐसे लोगों के खिलाफ पुलिस ने पटेल चौक, ग्रीन चौक, राजेन्द्र पार्क चौक, महाराजा चौक आदर्श नगर, पुलगांव चौक में चालानी कार्यवाही की। इस दौरान पुलिस ने लोगों से मास्क लगाने व सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने की अपील भी की। लॉकडाउन की स्थिति पर कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे और पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर बराबर नजरे बनाए रखे है। उनके निर्देश पर प्रशासनिक अधिकारी व पुलिस अधिकारी मोर्चा संभाले रहे।

यह लॉकडाउन अन्य लॉकडाउन से काफी सख्त है। क्योंकि कोरोना संक्रमण के आंकड़े दुर्ग जिले में कभी इतने अधिक बढ़ें नहीं है। जनता को भी अब समझ में आ रहा है कि कोरोना संक्रमण से बचाने का एक मात्र उपाय अपनी सुरक्षा है। सुरक्षा के इन उपायों में मास्क व सेनीटाइजर का उपयोग, सोशल डिस्टेसिंग का पालन व भीड़भाड़ वाले स्थानों में जाने से बचना शामिल है। लॉकडाउन में जनता बगैर आवश्यक कार्य से घरों से नहीं निकल रही है। जनता की जागरुकता का यह बड़ा विषय है। जिससे लॉकडाउन में दुर्ग-भिलाई में सन्नाटा पसरा हुआ है। यह सन्नाटा दुर्ग जिले में कोरोना संक्रमण की चैन तोडऩे में अहम साबित होगा।

error: Content is protected !!