मंत्री डॉ. डहरिया शामिल हुए देवांगन समाज के वार्षिक सम्मेलन में

रायपुर। नगरीय प्रशासन और श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया आरंग विकासखण्ड के ग्राम पंचायत जुगेसर में आयोजित खरोरा राज देवांगन समाज वार्षिक सम्मेलन में शामिल हुए। डॉ. डहरिया ने इस दौरान जुगेसर में देवांगन समाज सामुदायिक भवन के लिए 6 लाख 50 हजार रूपए देने की घोषणा की। उन्होंने बताया कि समाज की मांग पर आरंग नगर में देवांगन समाज के सामुदायिक भवन के लिए 22 लाख रूपए की स्वीकृति पहले ही कर दी गई है। इसके अतिरिक्त देवांगन समाज के सामुदायिक भवन के लिए रायपुर तथा नवापारा राजिम में 15-15 लाख रूपए की स्वीकृति प्रदान कर दी गई है।
नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. डहरिया ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि देवांगन समाज स्वयं के बलबुते अपने आप को स्थापित करने की दिशा में निरंतर प्रयासरत है। चाहे रोजी-रोटी की बात हो, संस्कृति, समाज में सहभागिता के साथ आगे बढ़ रही है। डॉ. डहरिया ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के मार्गदर्शन में छत्तीसगढ़ में सभी समाज सामाजिक समरसता के साथ आगे बढ़ रही है। छत्तीसगढ़ की पहचान विशेष तौर पर किसान है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने सरकार बनते की किसानों के हित में बड़ा निर्णय लेते हुए किसानों का अल्प कृषि ऋण माफ किया। साथ ही किसानों के उपज को समर्थन मूल्य देकर उन्हें आर्थिक रूप से समृद्ध बनाने का काम किया है। इसी का परिणाम है कि केन्द्र में मंदी की स्थिति के बावजूद भी छत्तीसगढ़ में मंदी का कोई प्रभाव नहीं पड़ा। आज किसान और व्यापारी भूपेश बघेल की सरकार से प्रसन्न है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार आम गरीब परिवारों को बिजली बिल से निजात दिलाने के लिए 400 यूनिट तक बिजली बिल हाफ किया। गरीबों पिछड़ों के हित में योजना बनाकर उन्हें लाभान्वित किए जा रहे है। डॉ. डहरिया ने कहा कि आप शिक्षा के क्षेत्र में, रोजगार के क्षेत्र में, व्यापार के क्षेत्र में आगे बढ़े सरकार आपके साथ है और हर संभव मदद के लिए तत्पर हैं।
इस अवसर पर वरिष्ठ समाजसेवी गिरीश देवांगन, जनपद पंचायत आरंग के अध्यक्ष खिलेश देवांगन, जिला पंचायत सदस्य श्रीमती ललिता कृष्णा, जनपद सदस्य विनोद ठाकुर, ग्राम पंचायत जुगेसर की सरपंच श्रीमती मेनबाई महेश देवांगन सहित समाज के प्रमुखजन विनोद देवांगन, चोवाराम देवांगन, रामसरण वर्मा, नोहर लाल डाण्डे, कमलनारायण, संतराम देवांगन, नारायण देवांगन तथा खरोरा राज के 63 गांवों के देवांगन समाज के सदस्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!