अनियंत्रित होकर बस नदी में गिरी, 25 लोगों की मौत

-मुख्यमंत्री राहत कोष से पीड़ित परिवारों को दो-दो लाख की आर्थिक सहायता
बूंदी । राजस्थान के बूंदी जिले में बुधवार सुबह हुए भीषण सड़क हादसे में पापडी गांव के पास यात्रियों से भरी एक बस मेज नदी में जा गिरी। लाखेरी थाना क्षेत्र में हुए इस दर्दनाक हादसे में 25 लोगों की मौत हो गई, जबकि अनेक लोग घायल हैं। हादसे की सूचना मिलते ही आसपास के लोग और पुलिस-प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे और यात्रियों को बाहर निकालने के लिए रेस्क्यू शुरु किया। कोटा से सवाई माधोपुर जा रही इस बस में लगभग 35 यात्री सवार थे।
पुलिस ने बताया कोटा के दादीबाड़ी से मुरालीलाल धोबी के परिवार के लोग शादी समारोह में शामिल होने बस से सवाई माधोपुर जा रहे थे। सवाई माधोपुर में मुरारी लाल धोबी की भांजी की शादी थी। कोटा-लालसोट मेगा हाइवे पर दिन के दस बजे के लगभग पापड़ी गांव के पास नदी के पुल से ऊपर गुजरते समय अगला पहिया निकल गया और बस अनियंत्रित होकर नदी में जा गिरी। जिस पुल पर यह हादसा हुआ, उस पर रेलिंग नहीं थी।
राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दुर्घटना पर दुख प्रकट किया है। बूंदी के डीएम अनंत सिंह मेहरा ने बताया कि हादसे में जान गंवाने वाले मृतकों के परिजन को मुख्यमंत्री सहायता कोष से 2-2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी। लखेरी के सब-इंस्पेक्टर राजेंद्र कुमार ने बताया कि इस हादसे का शिकार हुए 13 लोगों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई, जबकि 10 ने अस्पताल पहुंचने से पहले दम तोड़ दिया। मरने वालों में 10 महिलाओं और 3 बच्चे शामिल हैं।
अनिरुद्ध, ईएमएस, 26 फरवरी 2020

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!