डोंगरगढ़, बोरतलाव सड़क के लिए केंद्र ने स्वीकृति जारी किया

राजनांदगांव। सांसद संतोष पाण्डेय के द्वारा शीतकालीन लोकसभा सत्र में 5 दिसंबर 2019 को डोंगरगढ़-बोरतलाव को लेकर उठाये गए ध्यानाकर्षण सूचना का अंततः सकारात्मक परिणाम प्राप्त हो गया है। स्वयं सांसद संतोष पाण्डेय ने बताया कि राष्ट्रीय ग्रामीण अवसंरचना विकास एजेंसी, ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार का 20 जनवरी 2020 का इस आशय का पत्र उन्हें प्राप्त हुआ है।
उल्लेखनीय है कि डोंगरगढ़-बोरतलाव महाराष्ट्र सीमा तक की 15.30 किमी सड़क इतनी जर्जर है की सामन्य वाहन तो दूर एम्बुलेंस जैसी सेवाएं भी उक्त सड़क में आने वाली ग्रामों तक नहीं जा रहे है। सड़क निर्माण हेतु ग्रामीण एक नहीं वरन दो बार भूख हड़ताल पर बैठ चुके है। सड़क के पुनः निर्माण हेतु सांसद पाण्डेय ने शीतकालीन ससत्र में पूर्व स्वीकृत 744.69 लाख के स्थान पर पुनरीक्षित प्राक्कलन की राशि 1389.64 लाख रुण् की स्वीकृति हेतु लोकसभा में विभाग का ध्यान आकृष्ट किया था। लोकसभा में आवाज उठते ही दिल्ली से लेकर रायपुर और डोंगरगढ़ का लोक निर्माण का अमला सक्रिय हुआ जिसका परिणाम आया की केंद्र ने 1389.64 रूपये की स्वीकृति प्रदान की है।
सड़क की स्वीकृति प्राप्त होने पर पूर्व विधायक खेदूराम साहू, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष भरत वर्मा, मंडल अध्यक्ष बोधिराम साहू, ईश्वर वर्मा, शोभा पटेल, बोधन साहू, राम कुमार ठाकुर, प्रशांत कोडापे, प्यारेलाल सिन्हा, उपकार ठाकुर, भुनेश्वर मछिरके, अशोक वर्मा, ढालचंद मेश्राम, गिरवर साहू, रमेश उइके, प्रदीप उज्ज्वाने, कुलदीप अम्बुले, ऋषि राम सिन्हा, राजू पगारवर, कांति राम सहित समस्त डोंगरगढ़ निवासियों ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए सांसद संतोष पाण्डेय का आभार व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!