ऐतिहासिक महंत राजा सर्वेश्वर दास स्मृति अभा हॉकी प्रतियोगिता शुरू

 कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने 78वीं प्रतियोगिता का किया शुभारंभ
राजनांदगांव। हॉकी की नर्सरी संस्कारधानी राजनांदगांव में से ऐतिहासिक महंत राजा सर्वेश्वरदास स्मृति अखिल भारतीय हॉकी प्रतियोगिता शुरू हो गई। यह 78वीं प्रतियोगिता है। कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे ने प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। प्रतियोगिता 24 फरवरी तक अंतर्राष्ट्रीय एस्ट्रोटर्फ हॉकी स्टेडियम में चलेगी। इसमें देश की 20 चुनिंदा टीमें हिस्सा ले रही है। उद्घाटन मैच मध्यप्रदेश हॉकी एकेडमी भोपाल और दिल्ली इलेवन गाजियाबाद के बीच खेला गया।
प्रतियोगिता के शुभारंभ समारोह के मुख्य अतिथि कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने अपने उद्बोधन में कहा कि हॉकी राजनांदगांव की पहचान है। क्रिकेट और फुटबाल की विश्वव्यापी लोकप्रियता के इस जमाने में भी राजनांदगांव में जनता के सहयोग से महंत राजा सर्वेश्वरदास की स्मृति में हर साल होने वाली हॉकी प्रतियोगिता की परंपरा को जीवित रखने और संजोने का काम किया गया है। यह प्रतियोगिता राजनांदगांव की विरासत बन गई हैं। श्री चौबे ने कहा कि इस प्रतियोगिता को देखने के लिए जब भी मुझे मौका मिलता है। हर बार राजनांदगांव आता हूं। यहां आकर राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ियों की प्रतिभा को देखने का सौभाग्य प्राप्त होता है। इस प्रतियोगिता को प्रसिद्धि की ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए प्रदेश सरकार हर संभव सहयोग करेगी। कृषि मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने छत्तीसगढ़ को खेल के क्षेत्र में भी शिखर तक पहुंचाने के लिए खेल प्राधिकरण का गठन किया है। प्राधिकरण के जरिए खेल प्रतियोगिताओं और खिलाड़ियों को बढ़ावा मिलेगा। इसके लिए व्यापक कार्य योजना बनाई जा रही है।
प्रतियोगिता के शुभारंभ समारोह की अध्यक्षता करते हुए राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र के सांसद संतोष पाण्डेय ने कहा कि शिक्षा, साहित्य, कला-संस्कृति और खेल के क्षेत्र में उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल करना राजनांदगांव की विशेषता रही है। इतिहास इसका गवाह है। हॉकी के क्षेत्र में भी राजनांदगांव से नामी-गिरामी खिलाड़ी हुए हैं। राजनांदगांव को गढ़ने में महंत राजा सर्वेश्वरदास ने पूरा योगदान दिया है। उनके नाम पर यह हॉकी प्रतियोगिता हर साल होती है। श्री पाण्डेय ने खेल के क्षेत्र में देश का नाम रोशन हो इसके लिए अपनी शुभकामनाएं और शुभेच्छाएं प्रकट की।
पूर्व लोकसभा सांसद श्रीमती करूणा शुक्ला ने प्रतियोगिता शुरू होने पर अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि अंतर्राष्ट्रीय एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान हमेशा खेलने लायक साफ-सुधरा बना रहे इसके लिए शासन-प्रशासन और जनता को एक जुटता से जागरूक होकर कार्य करना होगा। ताकि हॉकी की इस नर्सरी से भविष्य में और भी अच्छे खिलाड़ी निकलें। राजनांदगांव नगर निगम की महापौर और आयोजन समिति की अध्यक्ष श्रीमती हेमा देशमुख ने कहा कि हॉकी प्रतियोगिता आयोजित करने के लिए एस्ट्रोटर्फ की साफ-सफाई एक चुनौती थी, जिसे आयोजन से जुड़े सभी लोगों ने मिलकर पूरा किया। राजनांदगांव खेल प्रतिभाओं के मामले में संपन्न है। यहां के अनेक खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर छत्तीसगढ़ और राजनांदगांव का नाम रौशन किया है। राजगामी संपदा राजनांदगांव के अध्यक्ष विवेक वासनिक ने कहा कि राजनांदगांव के ऐतिहासिक स्टेट स्कूल के छोटे से ग्राउण्ड से शुरू होकर यह प्रतियोगिता अब एस्ट्रोटर्फ मैदान तक पहुंच गई है। राजनांदगांव की खेल प्रेमी जनता के सहयोग से देश में यह प्रतियोगिता प्रतिष्ठित हो गई हैं।
कलेक्टर तथा स्टेडियम समिति के अध्यक्ष जयप्रकाश मौर्य ने प्रतियोगिता प्रतिवेदन और स्वागत उद्बोधन में कहा कि यह प्रतियोगिता राजनांदगांव की विरासत है। 77 साल का लंबा इतिहास इस प्रतियोगिता के साथ जुड़ा हुआ है। आज के दौर में क्रिकेट सबसे लोकप्रिय खेल है। उसके बाद भी राजनांदगांव की यह वार्षिक प्रतियोगिता निरंतर जारी है। इसी का परिणाम है कि राजनांदगांव ने हॉकी के अनेक राष्ट्रीय एव अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी दिए हंै। श्री मौर्य ने कहा कि यह प्रतियोगिता राजनांदगांव जनता द्वारा आयोजित की जाती है। रात-दिन मेहनत के बाद साफ-सफाई कर प्रतियोगिता के लिए एस्ट्रोटर्फ मैदान को तैयान किया गया। ताकि आयोजन की गरिमा बनी रहे।
कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे सहित सभी अतिथियों ने शुरूआत में स्वर्गीय महंत राजा सर्वेश्वरदास और स्वर्गीय महंत राजा दिग्विजय दास के तैल चित्र पर मार्ल्यापण किया। सभी अतिथियों, दर्शकों और उद्घाटन मैच की दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने दो मिनट का मौन रखकर स्वर्गीय महंत राजा सर्वेश्वरदास और स्वर्गीय महंत राजा दिग्विजय दास को श्रद्धांजलि दी। मुख्य अतिथि रविन्द्र चौबे ने उद्घाटन मैच के खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त करने के बाद प्रतियोगिता के विधिवत शुभारंभ की घोषणा की।
इस अवसर पर पूर्व अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी मृणाल चौबे, भोपाल टीम के कोच एवं द्रोणाचार्य पुरूस्कार से सम्मानित राजेन्दर सिंह सीनियर सहित अनेक पूर्व हॉकी खिलाड़ी और हॉकी प्रेमी दर्शक उपस्थित थे। समारोह में छत्तीसगढ़ राज्य अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य हफीज खान, पूर्व मंत्री धनेश पाटिला, हॉकी प्रतियोगिता आयोजन समिति के सदस्य, नगर निगम राजनांदगांव के अनेक पार्षद, राजगामी संपदा के सदस्य भी उपस्थित थे। अपर कलेक्टर एवं प्रतियोगिता के नोडल अधिकारी ओंकार यदु ने आभार प्रदर्शन किया। कार्यक्रम में अन्य अनेक जनप्रतिनिधि, वरिष्ठ गणमान्य नागरिक, पुलिस अधीक्षक बीएस धु्रव, नगर निगम आयुक्त चन्द्रकांत कौशिक भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!