सिवनी ग्राम की गौरव बनी नवनिर्वाचित जनपद उपाध्यक्ष नम्रता

जनपद पंचायत बलौदा के अध्यक्ष उपाध्यक्ष के चुनाव में उपाध्यक्ष पद पर सिवनी च की जनपद सदस्य नम्रता राघवेन्द्र ने ओमप्रकाश श्रीवास को पराजित कर एक इतिहास रच दिया । पहली बार राजनीति में पदार्पण कर जनपद उपाध्यक्ष पद पर दावेदारी करना और विभिन्न प्रकार के राजनीतिक दबाव का सामना करके जीत हासिल करके बलौदा जैसे बड़े जनपद पंचायत के उपाध्यक्ष जैसे गरिमामय पद पर आसीन होना नम्रता राघवेन्द्र नामदेव के लिए एक बहुत बड़ी उपलब्धि रही है । जिला के सबसे बड़े ग्राम पंचायत और विधायक आदर्श ग्राम रहे सिवनी से अभी तक किसी भी ने इस स्तर के राजनीतिक पद को हासिल नही किया था, नम्रता नामदेव ने पहली प्रयाश में ही इसे हासिल कर ग्राम की राजनीति में एक इतिहास रच दिया, एक स्वर्णिम मुकाम हासिल कर लिया । उनकी जीत पर ग्राम सरपंच लखेकुमारी चन्द्रकुमार ने कहा कि नम्रता नामदेव की यह जीत गांव के लिए गौरव की बात है । गांव के शिक्षा विद अशोक तिवारी ने बताया कि जनपद उपाध्यक्ष जैसे पद मिलने से गांव में विकास की धारा बहेगी । गांव के ही शिक्षक उदय देवांगन ने कहा कि जनपद उपाध्यक्ष चुकी जनपद पंचायत में शिक्षा समिति का पदेन सभापति भी होता है, और नम्रता राघवेंद्र नामदेव उच्च शिक्षा प्राप्त मेम्बर है, इसलिए न केवल सिवनी बल्कि पूरे जनपद में शिक्षा की गुणवत्ता के सुधरने के आसार है । रक्तदाता क्रांति समूह के सदस्य महेश राठौर ने बताया कि नम्रता राघवेन्द्र नामदेव इस पद में आकर अपनी सामाजिक दायित्वों का निर्वहन और प्रभावी ढंग से करेंगी । गांव के प्रबुद्ध नागरिक मनमोहन गुरुजी और शिव यादव ने नम्रता नामदेव की इस जीत को गांव के जनमानस की अपेक्षाओं की जीत बताया और कहा कि एक योग्य व्यक्ति के पद में आने से पूरे क्षेत्र का विकास होगा । पत्रकारिता में अहम भूमिका निभाने वाले अमृत श्रीवास ने नम्रता राघवेन्द्र के जनपद उपाध्यक्ष पद पर चुने जाने को गांव के लिए एक ऐतिहासिक उपलब्धि बताया । नम्रता राघवेन्द्र नामदेव के जनपद उपाध्यक्ष बनकर ग्राम आगमन पर लोगो ने ढोल तासे और आतिशबाजी से उनका स्वागत किया । गांव के गांधी चौक, हाईस्कूल चौक, नवधा चौक, बाजार पारा, ब्राह्मण मोहल्ला, साव पारा सहित विभिन्न जगहों में मंगल तिलक और फूल माला से नम्रता राघवेन्द्र नामदेव का स्वागत किया गया । इस आत्मीय स्वागत से भाव विभोर होकर नम्रता नामदेव ने इस उपलब्धि का श्रेय गांव के देवी देवता और बड़ो के आशीर्वाद को दिया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!